जागरण संवाददाता, करनाल: भारतीय खाद्य निगम में चतुर्थ श्रेणी के अंतर्गत चौकीदार पद की परीक्षा में मोबाइल की मदद से पेपर लीक करते पकड़े गए आरोपित पश्चिम बंगाल के नादिया जिले के गारापोटा क्षेत्र के रहने वाले मिटू मंडल को सोमवार को अदालत में पेश किया गया। यहां से उसे पुलिस रिमांड पर भेज दिया गया। आरोपित को नौ जुलाई को दोबारा पेश किया जाएगा। आरोपित से रिमांड के दौरान उसके भाई के बारे में पता लगाया जाएगा।

इस प्रकरण के तहत आरोपित मोबाइल से पेपर स्कैन कर पश्चिमी बंगाल में अपने भाई के पास भेज रहा था। इस तरह भाई पेपर हल करने में उसकी मदद कर रहा था। अब पुलिस उसके भाई को भी गिरफ्त में ले सकती है। बता दें कि परीक्षा केंद्र अधीक्षक व स्कूल की प्रिसिपल तनूजा सचदेवा ने पुलिस में शिकायत दी थी, जिसमें उन्होंने बताया था कि रविवार को उनके स्कूल में एफसीआइ की वाचमैन पद के लिए चतुर्थ श्रेणी की परीक्षा का केंद्र बनाया गया था। परीक्षा के दौरान कमरा नंबर सात में अभ्यर्थी मिटू मंडल अपने साथ छुपाकर मोबाइल लेकर आया था। उसे पर्यवेक्षक पूजा रानी ने मोबाइल से पेपर स्कैन करते हुए देख लिया था, जिसके बाद जांच की तो उसके मोबाइल में पेपर की फोटो मिली थी।

शिकायत के बाद पुलिस ने आरोपित के खिलाफ मामला दर्ज कर उसे गिरफ्त में ले लिया था। सेक्टर 32-33 थाना एसएचओ राजीव कुमार के मुताबिक आरोपित मिटू मंडल को रिमांड पर लिया गया है, जिस दौरान उसके आरोपित भाई के बारे में जानकारी जुटाई जाएगी। उसे भी गिरफ्त में लिया जा सकता है।

Edited By: Jagran