-- कोरोना संक्रमण का खतरा रोकने के लिए उठाया गया कदम जागरण संवाददाता, करनाल

नेशनल मेडिकोस आर्गेनाइजेशन हरियाणा की ओर से कल्पना चावला राजकीय मेडिकल कालेज में पांच अलग-अलग विभागों की ओपीडी के कमरों में प्लास्टिक के पर्दे लगवाए। यह कोरोना कंट्रोल में एक पायलट स्टडी के तौर पर नेशनल मेडिकोस आर्गेनाइजेशन ट्रस्ट के द्वारा हरियाणा के विभिन मेडिकल कालेजों में किया जा रहा है। इन पर्दों के लगवाने से मरीज और डाक्टर का आपस में संपर्क नहीं हो जाएगा। इससे डाक्टरों में कोरोना संक्रमित होने का खतरा न के बराबर हो जाएगा। डाक्टर भी मरीज को थोड़े और बेहतर ढंग से देख पाएंगे। इन सभी कमरों का उद्घाटन मेडिकल सुपरिटेंडेंट डा. निवेश अग्रवाल द्वारा डा. गुलशन गर्ग व डा. विकास ढिल्लों की उपस्थिति में किया गया।

नेशनल मेडिकोस आर्गेनाइजेशन करनाल के कल्पना चावला राजकीय मेडिकल कालेज यूनिट के प्रेजिडेंट व ईएनटी विभागाध्यक्ष डा. अशोक जागलान ने बताया की समय- समय पर मरीजों की भलाई के लिए नेशनल मेडिकोस आर्गेनाईजेशन कार्यरत रहता है। इसी कड़ी में कोरोना काल के दौरान गोहाना में अप्रैल माह में लगभग 75000 रुपये का राशन बांटा गया था। इसी कड़ी में कोरोना काल के दौरान कोरोना के मरीजों की सहयता के लिए एनएमओ ने खानपुर मेडिकल कालेज में एक ब्लड डोनेशन कैंप भी लगवाया था। इसी कारण कोरोना रोग के बहुत मरीजों को प्लाज्मा और रक्त भी उपलब्ध भी हो पाया।

Edited By: Jagran