जागरण संवाददाता, करनाल : गांव उचानी में पिता द्वारा पुत्री की बेरहमी से हत्या करने की घटना से ग्रामीण सन्न हैं। रविवार को नव्या का पोस्टमार्टम करवाकर अंतिम संस्कार कर दिया। अंतिम संस्कार में पूरे गांव की आंखें नम थी। दूसरी ओर आरोपित पिता को पुलिस ने अदालत में पेश करके एक दिन के रिमांड पर लिया है। रिमांड के दौरान पुलिस आरोपित से वह मोबाइल बरामद करेगी, जिससे उसने हत्या के बाद अपनी बेटी की वीडियो बनाई थी। शुरुआती जांच में यही पता चला है कि माता-पिता में झगड़े के चलते मासूम नव्या खासकर अपने पिता से बेहद कम बात करती थी, जिसे लेकर वह गहरे तनाव में रहता था। इसी के चलते अचानक उसने इतना खतरनाक इरादा कर लिया और अपने ही हाथों से बेटी का गला रेतकर हत्या कर दी। क्या थी घटना

गांव उचानी निवासी करीब 35 वर्षीय रोहित उर्फ छत्रपाल गांव के अड्डे पर चाऊमीन और बर्गर की रेहड़ी लगाता है। उसकी पत्नी भी मजदूरी करती थी। शनिवार शाम को रोहित की सात वर्षीय बेटी नव्या घर मे बच्चों के साथ खेल रही थी। रोहित ने उसे आवाज लगाकर बुलाया। जब वह घर गई तो आरोपित उसे छत पर ले गया, जहां उसने दीवार पर बच्ची की गर्दन रखकर चाकू से वार कर दिए। इसके बाद वह मौके पर ही बैठा रहा। उसने मोबाइल में एक से दो मिनट की दो-तीन वीडियो क्लिप भी बनाई। इसी बीच, दूसरे बच्चों ने अचानक यह घटनाक्रम देख लिया तो उन्होंने शोर मचाया। घटना की सूचना मिलने के बाद पुलिस मौके पर पहुंची और आरोपित को गिरफ्तार कर लिया। शुरुआती जांच में पता चला है कि घर में झगड़े के चलते अपने प्रति मासूम नव्या के रवैये से नाराज रोहित ने अचानक इतना खतरनाक इरादा कर लिया कि उसकी हत्या कर दी। पति-पत्नी के बीच रहता था झगड़ा

ग्रामीणों के अनुसार आरोपित रोहित व उसकी पत्नी पूनम के बीच अक्सर झगड़ा रहता था। दोनों के बीच मनमुटाव का असर मासूम नव्या पर भी था। बताते हैं कि पति-पत्नी के बीच ज्यादा बातचीत भी नहीं थी। इसी का असर नव्या पर भी पड़ा और वह भी अपने पिता से बेहद कम बात करती थी। यह भी बताया जा रहा है कि आरोपित नशे का आदि था और झगड़े की एक वजह यह भी थी। गर्दन पर किए करीब छह वार

रविवार को मासूम नव्या का पोस्टमार्टम कल्पना चावला राजकीय मेडिकल अस्पताल में करवाया गया। रोहित ने हत्या में उस चाकू का इस्तेमाल किया, जिसका प्रयोग वह अपनी रेहड़ी पर करता था। हत्या के इरादे से जब वह घर में आया तो इस चाकू से नव्या की गर्दन पर करीब छह वार किए। इससे मासूम ने वहीं दम तोड़ दिया। मोबाइल खेत में फेंकने की आशंका

जिस मोबाइल से रोहित ने बेटी की हत्या के बाद वीडियो बनाई थी, वह मोबाइल अभी तक पुलिस को नहीं मिला है। जबकि जिस चाकू से उसने हत्या की थी, उसे बरामद कर लिया है। पुलिस ने मोबाइल बरामद करने के लिए ही उसे अदालत से एक दिन के रिमांड पर लिया है। ताकि हत्या के साक्ष्यों को और मजबूत किया जा सके। वर्जन

रोहित को रविवार को अदालत में पेश करके एक दिन के रिमांड पर लिया है। रिमांड के दौरान उससे मोबाइल बरामद किया जाएगा। इस मामले में जांच बेहद गंभीरता से की जा रही है।

-एसएचओ ललित कुमार, सदर थाना प्रभारी।

Edited By: Jagran