करनाल, जागरण संवाददाता। बिजली निगम ने सोलर ऊर्जा को बढ़ावा देने के लिए पहल शुरू की है। इसके तहत 5 किलोवाट से अधिक लोड वाले उपभोक्ताओं को सोलर पैनल लगवाने के निर्देश दिए जा रहे हैं। बिजली निगम की ओर से अब तक ऐसे 2000 उपभोक्ताओं को नोटिस जारी करके सोलर पैनल लगवाने की हिदायत दी गई है। ताकि बिजली की बचत के साथ उपभोक्ताओं की जेब का बोझ भी कम किया जा सके।

बिजली निगम सोलर पैनल लगाओ, घर-प्रतिष्ठान में अपना पावर बैंक बनाओ योजना के तहत बिजली उपभोक्ताओं को बिजली बचाने के लिए प्रेरित कर रहा है। सोलर पैनल लगाकर उपभोक्ता अपने घर और प्रतिष्ठान में पर्याप्त बिजली प्राप्त करने के साथ ही भविष्य के लिए पावर बैंक भी बना सकते हैं। इस पावर बैंक का फायदा ये होगा कि जब अधिक बिजली की खपत होगी तो भी बिल नहीं भरना पड़ेगा। इसके अलावा बिजली निगम के पास रखे गए पावर बैंक से बिजली भी मिल जाएगी। अधिकारियों का कहना है अगर औद्योगिक क्षेत्र सोलर पैनल लगाकर बिजली का उपयोग करेगा तो शहर में लोड फैक्टर में सुधार हो जाएगा।

अभी तक 7500 उपभोक्ता लगवा चुके हैं सोलर सिस्टम

सोलर पैनल सिस्टम से बिजली प्रयोग करने के बाद बची बिजली को उपभोक्ता सुरक्षित रख सकता है। गर्मी में धूप के कारण अधिक यूनिट बनती है। इन यूनिट को वह आगे के लिए बचा सकता है। अगर पांच किलोवाट का मीटर लगा है और बिजली का बिल करीब पांच हजार से अधिक आ रहा है। सोलर पैनल से बिल जीरो और माइनस में भी हो जाएगा। बिजली निगम के एसई जेएस नारा ने बताया कि शहर में 7500 से अधिक उपभोक्ता ऐसे है, जो सोलर सिस्टम से खुद की बिजली इस्तेमाल कर रहे हैं। इस संख्या को और बढ़ाना है। ताकि अधिक से अधिक लोग इस योजना का लाभ ले सकें।

किसी भी कार्य दिवस में कर सकते हैं आवेदन

एसई जेएस नारा ने बताया कि शहर में सोलर पैनल से लेाग बिजली की बचत कर सकते हैं। जिनका लोड अधिक है, वह इस योजना का लाभ ले सकते हैं। लोगों को बिल भी नहीं देना होगा। इसके लिए विभाग में किसी भी कार्य दिवस में आवेदन कर सकते है।

Edited By: Anurag Shukla

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट