जागरण संवाददाता, करनाल : निर्मल समाज वेलफेयर सोसाइटी की ओर से डॉ. सर्वपल्ली राधाकृष्णन की पुण्यतिथि पर चार जिलों के पांच शिक्षकों को सम्मानित किया गया। जिनमें कैथल से अशोक सहगल व मीनाक्षी, कुरुक्षेत्र से चारू व मंजू, पानीपत से दीपक कुमार शामिल हैं।

सोसाइटी की अध्यक्षा निर्मल दहिया ने डॉ. सर्वपल्ली राधाकृष्णन को श्रद्धांजलि अर्पित की। इसके पश्चात उनके बताए मार्ग पर चलते हुए समाज को शिक्षित करने वाले शिक्षकों को सम्मान प्रदान किया गया। कार्यक्रम में मुख्य अतिथि के तौर पर सुनीता तेहरी ने शिरकत की। निर्मल दहिया ने डॉ. राधाकृष्णन के जीवन के बारे में अवगत करवाते हुए कहा कि वे एक शिक्षक ही नहीं, अपितु दर्शनशास्त्री भी थे। उनका मानना था कि देश को मजबूत करने में शिक्षकों की अहम भूमिका होती है। शिक्षकों का सौभाग्य है कि भारत के पहले उप राष्ट्रपति दूसरे राष्ट्रपति के तौर पर जो महान कार्य कर चुके हैं, उनके जन्मदिवस को हम शिक्षक दिवस के रूप में मनाते हैं। अतिथियों ने निर्मल समाज वेलफेयर सोसाइटी की ओर से किए जा रहे कार्यो की सराहना की।

Posted By: Jagran