करनाल, जागरण संवाददाता। करनाल के तरावड़ी शहर के गुरुद्वारा रोड पर राजकीय आदर्श संस्कृतिक वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय हादसा हो गया। पांचवीं कक्षा के 12 से ज्‍यादा छात्र छत से नीचे गिर गए। हादसा उस समय हुआ जब स्कूल के सामने से नगर कीर्तन निकल रहा था।

बच्चे नगर कीर्तन को देखने के लिए स्कूल की छत पर चले गए। दीवार की हालत कमजोर होने की वजह से किनारे खड़े बच्चे दीवार के साथ-साथ नीचे गिर पड़े। इस हादसे में 7 बच्चे गंभीर रूप से घायल बताए जा रहे हैं। दो बच्चों के सिर में गहरी चोट लगने के कारण तरावड़ी के सरकारी अस्पताल से करनाल के कल्पना चावला मेडिकल कॉलेज में रेफर करने की नौबत आ गई।

हादसे की सूचना मिलते ही नगरपालिका चेयरमैन वीरेंद्र बंसल व स्कूल के प्रिंसिपल स्टाफ सदस्यों के साथ मौके पर पहुंचे और घायल अवस्था में सभी बच्चों को तरावड़ी के निजी अस्पताल के बाद सरकारी अस्पताल में उपचार के लिए दाखिल करवाया गया। जहां बच्चों का इलाज चल रहा है।

स्कूल के प्रिंसिपल पवन का कहना है कि आज ही बच्चों को स्कूल की छत पर धूप में बिठाया गया था। जैसे ही नगर कीर्तन की आवाज बच्चों ने सुनी तो बच्चे नगर कीर्तन देखने के लिए छत पर खड़े हो गए, जिसके बाद दीवार नीचे गिर गयी और बच्चों को चोट लग गई। गंभीर अवस्था में घायल बच्चों को तुरंत सरकारी अस्पताल भिजवाया गया।

हादसे की सूचना मिलने के बाद बच्चों के अभिभावकों के साथ-साथ अन्य लोग भी सरकारी अस्पताल में एकत्रित हो गए। उन्होंने स्कूल प्रशासन को इस हादसे का जिम्मेदार ठहराया। बताया जा रहा है कि जब बच्चे स्कूल की छत से नीचे गिरे तो दीवार भी बच्चों के ऊपर गिर गई। कारण बच्चों को गंभीर चोटें आई है। खबर लिखे जाने तक बच्चों का तरावड़ी के सरकारी अस्पताल में उपचार चल रहा था।

Edited By: Anurag Shukla

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट