संवाद सहयोगी, असंध : रत्तक रोड स्थित बांके बिहारी धर्मकांटा पर पकड़े गए खराब क्वालिटी के चावलों पर संबंधित लोगों के खिलाफ कार्रवाई शुरू कर दी गई है। इस मामले में फूड सप्लाई इंस्पेक्टर की शिकायत पर पुलिस ने धोखाधड़ी सहित विभिन्न धाराओं के तहत केस दर्ज किया है। पुलिस ने चावल के स्टॉक को कालेज रोड स्थित हैफेड के गोदाम में रखवा दिया है। जबकि ट्राले को कब्जे में लेकर चालक को हिरासत में लिया है।

जानकारी के अनुसार शनिवार को सब इंस्पेक्टर शीशपाल सीएम फ्लाइंग की टीम, हैफेड और डीएफएससी इंस्पेक्टर योगेश कुंडू की टीम ने धर्मकांटे पर तोल करवा रही गाड़ी को चैक किया तो उसमें बिहार से आया हुआ चावल मिला। इस पर इंस्पेक्टर योगेश कुंडू द्वारा कागजात मांगने पर चालक ने करनाल की अनाज मंडी की दुकान नंबर 118 की बनी बिल्टी पकड़ा दी। चावल से लोड़ ट्राले को बीजी ऑवरसीज उपलाना में लेकर जा रहा था। सीएम फ्लाइंग द्वारा दो गाड़ियों को पकड़े जाने के बाद अन्य राइस मिलर्स में भी हडकंप मचा रहा।

जांच में सामने आया कि देवरिया से आई गाड़ी की बिल्टी पक्की पाई गई। जबकि बिहार से बीजी ओवरसीज नामक राइस मिल में आने वाली गाड़ी के सभी कागजात फर्जी पाए गए। रविवार देर शाम को तीन विभागों ने गाड़ी का स्टॉक हैफेड के गोदाम में लगवा दिया। पुलिस जांच अधिकारी कर्मबीर सिंह ने बताया कि डीएफएससी इंस्पेक्टर योगेश कुंडू की शिकायत पर राइस मिल संचालक पंकज गर्ग और करनाल की दुकान नंबर 118 के मालिक के खिलाफ धोखाधड़ी का केस दर्ज कर लिया है। पुलिस अब तमाम पहलुओं से पूरे मामले की जांच कर रही है।

Edited By: Jagran