जागरण संवाददाता, करनाल

आज वर्ष 2020 बीत गया है। यह वर्ष दशकों तक याद रहेगा। इसी वर्ष ने ने 2021 को उम्मीदों का साल बनाया। इस वर्ष में शुरू हुए प्रोजेक्ट इस वर्ष पूरे हो जाएंगे। इनके पूरे होने से कर्णनगरी की सूरत बदल जाएगी। पश्चिमी यमुना नहर के किनारे को पिकनिक स्पॉट के रूप में विकसित होगा। सुंदरता के नाम पर अटल पार्क और कर्ण लेक का सुंदरता में चार चांद लग जाएंगे। करनाल से मेरठ जाने वाले के लिए राह आसान होगी। शहर के सभी आठ गेट पर भव्य द्वारों के निर्माण का काम पूरा होगा। फोटो----06 नंबर है।

पश्चिमी यमुना का किनारा देखते ही रह जाएंगे दंग

पश्चिमी यमुना नहर के किनारे को पिकनिक स्पॉट का जो प्लान तैयार किया जा रहा है, जब वह हकीकत का रूप लेगा तो पहली बार इस स्थल को देखने वाला दंग रह जाएंगे। प्लानिग है कि करीब एक किलोमीटर लंबे स्थल पर वाई-फाई, जोगिग स्टेशन व लेजर पार्क बनाया जाएगा। योगा डेस्क, वॉकिग स्ट्रीट व पार्क होगा। बोटिग की सुविधा लुभाएगी। बच्चों के लिए मनोरंजन जोन बनेगा। खाने-पीने के लिए वेंडर जोन, फेंसिग और लाइट की सुविधा होगी। महाभारत की थीम पर मूर्तिकला पर काम किया जाएगा। इस प्रोजेक्ट में साबरमती रिवर फ्रंट से भी आइडिया लिए जाएंगे। अटल पार्क को मिलेगा नया रंग-रूप

फोटो-----04 नंबर है।

करीब 47 एकड़ में फैले विशाल अटल पार्क को नई लुक देने के लिए इसकी क्लीनिग और पेंटिग करने के साथ-साथ छोटी-छोटी कार्ययोजना के तहत टॉट-लॉट यानी बच्चों के खेलने की जगह तथा बटरफ्लाई और बायोडाईवर्सिटी गार्डन बनाए जाएंगे। ऐसे गार्डन में पक्षी आकर्षित होंगे और अपनी-अपनी आवाज में आकर चहकेंगे। उन्होंने बताया कि पार्क में जो स्पेस या जगह पाथ-वे से कनेक्ट नहीं हैं, उन्हें कनेक्ट करेंगे। गैजिबो की पेंटिग की जाएगी। मृत पौधों की जगह नए पौधे लगाएंगे। पार्क के अंदर एक मंदिर साइट को देखते वहां राशि गार्डन व नक्षत्र गार्डन बनाए जाएंगे। पार्क में मौजूद वाटर बॉडी के 30 फीसद भाग में ओपन एयर थिएटर रहेगा, जबकि 70 फीसद को ऐसे ही रखकर उसकी सफाई कराएंगे। महापुरुषों की याद दिलाएंगे भव्य द्वार

फोटो----05 नंबर है।

शहर के आठ प्रवेश स्थलों पर ये विशाल गेट बनाए जा रहे हैं। इनमें बलड़ी बाईपास पर श्रीमदभगवद् गीता के नाम से विशाल गेट कई महीने पहले ही बनकर तैयार हो गया था। दूसरा द्वार शहर के नमस्ते चौक पर राजा कर्ण के नाम से गेट बन चुका है। करनाल-मेरठ रोड पर हाइवे के निकट पंडित दीनदयाल उपाध्याय के नाम पर बनाए जा रहे गेट का कार्य भी प्रगति पर है। करनाल-इंद्री रोड पर श्री आत्म मनोहर जैन मुनि के नाम से द्वार निर्माणाधीन है। गेट के पास ही जैन मुनि के नाम पर एक आराधना मंदिर भी स्थापित है। काछवा रोड पर युगपुरुष स्वामी विवेकानंद के नाम से भव्य गेट का निर्माण होगा। करनाल-कैथल रोड पर गुरुनानक देव जी महाराज के नाम पर श्री गुरुनानक द्वार बनाया जाएगा। करनाल-कुंजपुरा रोड पर मां सरस्वती के नाम पर सरस्वती द्वार का निर्माण किया जाएगा। करनाल-मूनक रोड पर महान अंतरिक्ष वैज्ञानिक और करनाल की बेटी कल्पना चावला के नाम से द्वार बनकर तैयार होगा।

Edited By: Jagran