जागरण संवाददाता, कैथल : जिले की चारों विधानसभा सीटों पर मतदान को लेकर आरकेएसडी व आइजी कॉलेज में पोलिग पार्टियों को मतदान सामग्री दी गई। इसके बाद सभी पोलिग पार्टियां अपने अपने मतदान केंद्रों के लिए रवाना हुई। पोलिग पार्टियों में शामिल अधिकारियों व कर्मचारियों को रवाना किए जाने से पहले मतदान को लेकर बरती जानी वाली सावधानियों के बारे में भी जानकारी दी गई।

सबसे पहले रिटर्निंग अधिकारी की मौजूदगी में फाइनल रिहर्सल की गई। इस दौरान डीसी डॉ. प्रियंका सोनी, एसपी विरेंद्र विज सहित अन्य सीनियर अधिकारी भी मौजूद रहे। मतदान केंद्रों में रवाना होने से पहले ईवीएम और वीवीपैट मशीनों की जांच की।

बता दें कि जिला में इस विधानसभा चुनाव में कुल 797 बूथ बनाए गए हैं। गुहला क्षेत्र में 196, कलायत विधानसभा क्षेत्र में 209, कैथल विधानसभा क्षेत्र में 208, पूंडरी विधानसभा क्षेत्र में 184 बूथ स्थापित किए गए हैं।

डीसी डॉ. प्रियंका सोनी ने कहा कि चुनाव भारतीय लोकतंत्र का सबसे बड़ा पर्व है। इसलिए हम सबका यह दायित्व बनता है कि चुनावों की पवित्रता किसी भी सूरत में भंग न हो। आयोग के दिशा-निर्देशों की अनदेखी करने वाले अधिकारी व कर्मचारी के विरूद्ध कड़ी कार्रवाई अमल में लाई जाएगी।

सोमवार सुबह मतदान से पहले 6 बजे मॉक पोल की सभी औपचारिकताएं पूरी करें। मॉक पोल के बाद वीवीपैट मशीन से पर्चियों का मिलान किया जाए और इसके बाद वीवीपैट मशीन से इन पर्चियों को निकालने के बाद ही मतदान का कार्य शुरू करवाएं। मॉक पोल 50 वोट डालना अनिवार्य है। यह कार्य राजनैतिक दलों के प्रतिनिधियों की उपस्थिति में करवाया जाए। मॉक पॉल के बाद 7 बजे वास्तविक मतदान का कार्य शुरू करवाया जाएगा, जो सायं 6 बजे तक जारी रहेगा।

इस दौरान कैथल विधानसभा के लिए आरकेएसडी कॉलेज से पोलिग पार्टियों को सामान वितरित करने के बाद रवाना किया गया। इसी प्रकार से पूंडरी व कलायत विधानसभा के लिए आईजी कॉलेज व गुहला विधानसभा के लिए डीएवी कॉलेज से पोलिग पार्टियों को सामान वितरित करने के बाद रवाना किया गया।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप