कैथल, जागरण टीम: क्षेत्र के गांव सजूमा में जिला परिषद और ब्लाक समिति की मतगणना के बाद शाम के समय माहौल खराब हो गया। जीत की खुशी में धार्मिक स्थल पर संयुक्त रूप से पूजा अर्चना करने जा रहे जिला परिषद के नव निर्वाचित सदस्य विक्रमजीत व ब्लाक समिति सदस्य रामकरण के काफिले और एक अन्य पक्ष के बीच चुनावी सियासी मुद्दे को लेकर टकराव हो गया।

बताया जा रहा है कि जो उम्मीदवार जीता है उसे एक पक्ष ने समर्थन दिया हुआ था। जीत के बाद गांव के चौराहे पर जीतने वाले उम्मीदवार के समर्थक नाच रहे थे उसकी समय हारने वाले के समर्थकों के साथ झड़प हो गई। इसमें भारी पथराव के साथ-साथ लाठियां और गंडासी चली। इसके चलते धार्मिक स्थल के पास की गली संग्राम स्थल में तबदील हो गई। इसमें दोनों पक्षों के कई दर्जन लोग जख्मी हुए हैं।

इस दौरान बीच बचाव के लिए तैनात पुलिस के वाहनों पर पथराव हुआ। भारी टकराव में थाना प्रभारी बलदेव सिंह मलिक सहित अन्य पुलिसकर्मी जख्मी हुए हैं। तेजी से आए पत्थरों के कारण हेलमेट टूट गया और सिर पर चोटें आई। इसके चलते वे गंभीर रूप से घायल हो गए।

रात के अंधेरे में हर तरफ कोहराम के बीच अनियंत्रित तनाव को देखते हुए ग्रामीण महिलाएं, बच्चे और बुजुर्ग घरों में दुबक गए। घटना की सूचना मिलते ही जिला पुलिस कप्तान मकसूद अहमद के निर्देश पर थाना प्रभारी बलदेव सिंह मलिक पुलिस टीमों के साथ मौके पर पहुंचे।

फिलहाल जो ग्रामीण जख्मी हुए हैं वे पुलिस के सामने नहीं आ रहे हैं। इधर-उधर वे अपने स्तर पर उपचार करवाने में लगे हैं। वहीं विवाद ज्यादा होने के कारण एसपी मकसूद अहमद भी गांव में पहुंच गए। गांव में शांति बनाए रखने की अपील की जा रही है। बताया जा रहा है कि इन दोनों पक्षों में मतगणना केंद्र पर ही कुछ कहासुनी हो गई थी। जिसके बाद गांव में जाकर यह टकराव हो गया।

गांव छावनी में तबदील कैथल डीएसपी रवींद्र सांगवान ने बताया कि कानून व्यवस्था और शांति के लिए गांव सजूमा में दो रिजर्व, सात एसएचओ और कलायत थाना पुलिस अधिकारियों-कर्मचारियों को मुस्तैद किया गया है। घटना स्थल पर ग्रामीणों द्वारा लाइट को आफ कर दिया गया। इसके चलते सरकारी वाहनों की लाइटों की रोशनी में अप्रिय स्थिति से निपटने के लिए प्रशासन व्यवस्था बनाने में लगा है। पुलिस की तरफ से प्रयास किया जा रहा है कि किसी भी तरह से टकराव को रोका जाए। रात होने के कारण पुलिस की परेशानी भी बढ़ गई।

इनका कहना है

गांव सजूमा में विवाद की सूचना मिलते ही पुलिस टीम भेज दी गई थी। पथराव में कलायत थाना प्रभारी सहित कुछ पुलिस कर्मचारियों को चोट आई है। फिलहाल स्थिति पर काबू पा लिया गया है। गांव में शांति बनाए रखने का प्रयास किया जा रहा है। - मकसूद अहमद, एसपी कैथल।

Edited By: MOHAMMAD AQIB KHAN

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट