जागरण संवाददाता, कैथल : इनेलो पार्टी ने सोमवार को जिला मुख्यालय पर बढ़ती महंगाई और बेरोजगारी के खिलाफ जोरदार प्रदर्शन किया। इनेलो किसान सैल के प्रदेशाध्यक्ष फूल सिंह, प्रदेश महासचिव अशोक जैन, जिलाध्यक्ष राजा राम माजरा की अगुवाई में प्रदर्शन कर नायब तहसीलदार ईश्वर सिंह को राज्यपाल के नाम ज्ञापन सौंपा। इनेलो ने सरकार का ध्यान प्रदेश में बढ़ती महंगाई और बेरोजगारी की तरफ दिलाने का प्रयास किया है। सरकार की गलत नीतियों के कारण पेट्रोल-डीजल के दाम आसमान छू रहे हैं। आम लोगों की रोजमर्रा की जरूरत की चीजों के साथ-साथ फसलों के लागत मूल्यों में भारी वृद्धि हुई है। सरकार एक तरफ तो किसानों की आय दोगुनी करने की बात करती है और दूसरी ओर कृषि इनपुट जैसे डीजल, कीटनाशक दवाईयां, खाद-बीज और उपकरण की कीमतों में भारी वृद्धि कर दी गई है।

बेरोजगारी में हरियाणा देश में पहले स्थान पर पहुंच चुका है। प्रदेश में बेरोजगारी दर 28.1 प्रतिशत पर पहुंच गई है। सरकार की आर्थिक नीतियों की वजह से महंगाई और बेरोजगारी दर लगातार बढ़ रही है। मंडियों में तुरंत प्रभाव से बारदाने का उचित प्रबंध किया जाए। इस मौके पर एडवोकेट शशी भूषण वालिया, अनिल तंवर क्योडक, ईश्वर मैहला, दर्शन दीवाल, ऋषि राज राणा, राममेहर खुराना, शमशेर, प्रवीण, महाबीर इंद्र पाई मौजूद थे।

वेतन न मिलने पर मार्केट कमेटी सफाई कर्मचारियों ने विधायक लीला राम को सौंपा ज्ञापन

संवाद सहयोगी, गुहला-चीका : मार्केट कमेटी चीका में ठेकेदार के माध्यम से लगे सफाई कर्मचारियों ने पांच माह से वेतन न मिलने पर कैथल के विधायक लीला राम को ज्ञापन सौंपा। यूनियन के प्रदेशाध्यक्ष जयदेव अठवाल, उपाध्यक्ष केदार सिंह, संस्थापक राजू भागल, मुल्तान सिंह, कार्यकारी सदस्य ऊषा मचल, अशोक कुमार, अमरनाथ, जोनी, शीशन, सोनिया, मेलो देवी, वेदपाल ने बताया कि पांच माह से वह अपने वेतन के लिए दर-दर की ठोकरें खा रहे हैं। वे कई वर्षों से ठेकेदार के माध्यम से मार्केट कमेटी कार्यालय में बतौर सफाई कर्मचारी कार्य कर रहे है। उन्हें ठेकेदार द्वारा आठ हजार रुपये प्रति माह के हिसाब से मेहनताना फिक्स किया गया है। इसमें से 2300 रुपये पीएफ के नाम पर काटकर 5700 रुपये वेतन मिलता है। कर्मचारियों ने बताया कि जब इस बारे ठेकेदार से पूछा गया तो उन्होंने हमें छुट्टी कर देने की धमकी दी।

मैंने कुछ दिन पहले ही कार्यभार संभाला है। वेतन संबंधित मामला अभी मेरे संज्ञान में आया है। मैंने ठेकेदार को बुलाकर सफाई कर्मचारियों का वेतन देने की बात रखी है। शीघ्र ही इस मसले का हल कर दिया जाएगा।

- नरेंद्र ढुल, मार्केट सचिव चीका।

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप