संवाद सहयोगी, ढांड :

भारतीय स्टेट बैंक ढांड शाखा में नकली सोने पर लोन देने के मामले में मुख्य आरोपित विजय ¨सगला की गिरफ्तारी के बाद पुलिस ने रिमांड के दौरान उससे औजार, नापतौल का कांटा व 40 हजार रुपये बरामद किए हैं। आरोपित को कोर्ट में पेश कर न्यायिक हिरासत में भेज दिया है। इस मामले में बैंक प्रबंधक की शिकायत पर पुलिस ने जौहरी व 18 किसानों के खिलाफ केस दर्ज किया था। आरोपित जौहरी पिछले लंबे समय से फरार चल रहा था। आरोपित की मां ने किसानों के साथ हुई पंचायत में 15 दिनों के अंदर दस किसानों के पैसे भरने की जिम्मेदारी ली थी।

ये था मामला

बैंक प्रबंधक रमेश कुमार सचदेवा ने आरोप लगाया कि था कि किसानों ने गोल्ड लोन लेकर पैसा भरा नहीं था। जब बैंक ने पैसे भरने के लिए कहा तो उन्होंने इंकार कर दिया। किसानों ने जो सोना रखकर लोन लिया था, उस सोने को असली है या नकली इस बारे में जौहरी विजय ¨सगला ने बैंक को सोना असली बताते हुए किसानों को लोन दिया था, लेकिन जब इस सोने की जांच की गई तो यह सोना नकली मिला था। 18 किसानों की तरफ से बैंक का करीब 73 लाख रुपये बकाया है। इस पूरे मामले की जांच सीआइए टू पुलिस कर रही है।

इस पूरे मामले में किसानों से मिलीभगत करते हुए जौहरी पर नकली सोना देकर लोन लेकर पैसे न भरने का आरोप लगाते हुए बैंक प्रबंधक की शिकायत पर केस दर्ज हुआ था। इस मामले को लेकर 18 में से दो किसान भुगतान कर चुके हैं।

मामले की जांच की जा रही

ढांड पुलिस थाना प्रभारी शिवकुमार ने बताया कि नकली सोना देकर लोन लेने के मामले में आरोपित विजय ¨सगला को गिरफ्तार कर औजार व 40 हजार रुपये बरामद कर लिए हैं। मामले में जांच की जा रही है।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस