संवाद सहयोगी, पूंडरी: डीएवी कालेज के सभागार में मंगलवार को भाषण व वाद-विवाद प्रतियोगिता का आयोजन किया गया। प्रतियोगिता में बतौर मुख्यातिथि ¨प्रसिपल डॉ.सुभाष तंवर ने शिरकत की। उन्होंने कहा कि भाषण, वाद-विवाद और विमर्श में निपुणता हासिल करना प्रत्येक विद्यार्थी का लक्ष्य होना चाहिए। ये वो गुण है जो उसे उन्नति के शिखर पर पहुंचाते हैं। प्रतियोगिता के इस दौर में यह और भी जरूरी हो जाता है कि विद्यार्थी स्वयं को हर मंच पर तर्क पूर्ण ढंग से प्रभावशाली अभिव्यक्ति के लिए तैयार करें।

सांस्कृतिक विभाग के संयोजक डॉ.र¨वद्र गासो ने बताया कि कल कविता उच्चारण प्रतियोगिता में लगभग तीन दर्जन प्रतिभागियों ने विविधतापूर्ण प्रस्तुति दी। आज के कार्यक्रम में भी विद्यार्थियों ने बढ़-चढ़कर भाग लिया। आज के कार्यक्रम की विशेषता यह रही कि इस वर्ष वाद-विवाद प्रतियोगिता में विद्यार्थियों ने विशेष रुचि दिखाई। मंच का संचालन का कार्य सांस्कृतिक विभाग की समन्वयक प्रो. पर¨मद्र कौर ने किया। निर्णायक मण्डल की भूमिका डॉ.भान ¨सह, डॉ.विश्वजीत ¨सह और प्रो.ऋतु रानी ने निभाई।

वाद विवाद में प्रथम स्थान प्रवीन बीकॉम तृतीय वर्ष, द्वितीय स्थान सौरव बीए द्वितीय वर्ष और तृतीय स्थान गौरव बीए द्वितीय वर्ष ने प्राप्त किया। प्रात:कालीन सत्र में पें¨टग, कोलॉज और पोस्टर मे¨कग स्पर्धाओं का आयोजन किया गया। डॉ. गासो ने बताया कि प्रतिभा प्रदर्शन प्रतियोगिता के तहत कल प्रश्नोत्तरी प्रतियोगिता का आयोजन किया जाएगा तथा 15 सितंबर को गायन, नाटक और नृत्य के कार्यक्रम होंगे।

Posted By: Jagran