जागरण संवाददाता, कैथल : जिले में बिना मान्यता लिए चल रहे प्राइवेट स्कूलों के खिलाफ शिक्षा विभाग की ओर से एफआइआर दर्ज करवाई जाएगी। इसके लिए विभाग के डायरेक्टर ने शिक्षा अधिकारी को पत्र जारी कर दिया है। पत्र मिलते ही जिला मौलिक शिक्षा अधिकारी और जिला शिक्षा अधिकारी ने सभी खंड शिक्षा अधिकारियों को नोटिस जारी कर दिए हैं। खंड शिक्षा अधिकारियों की ओर से हर ब्लाक स्तर पर दस-दस टीमों का गठन किया गया है। टीमों में दो-दो सदस्यों को शामिल किया गया है। टीमें स्कूलों में जाकर कागजात चेक करेंगी और रिपोर्ट तैयार करेंगी। अधिकारियों को बुधवार तक इस बारे में रिपोर्ट देनी होगी। कक्षा पहली से आठवीं तक के स्कूलों को लेकर जिला मौलिक शिक्षा अधिकारी व कक्षा नौवीं से 12वीं तक के स्कूलों पर जिला शिक्षा अधिकारी की ओर से कार्रवाई की जानी है। जिले में करीब 300 प्राइवेट स्कूल हैं।

टीम ने जांचे कागजात

खंड कलायत में बिना मान्यता प्राप्त चल रहे स्कूलों पर शिक्षा विभाग की ओर से कार्रवाई अमल में लाई जा रही है। सोमवार को खंड के विभिन्न निजी स्कूलों में दस्तक देकर उनकी मान्यता संबंधी कागजात परखने का कार्य किया। इस कार्रवाई के चलते जहां कुछ स्कूलों में हडकंप मच गया। टीम की ओर से जहां मान्यता से संबंधित कागजात देखे गए वहीं कितनी कक्षा तक की मान्यता है, कहीं मान्यता की अवधि समाप्त तो नहीं हो गई। निरीक्षण के दौरान कुछ स्कूल बंद पाए गए।

रिपोर्ट आने पर कार्रवाई की जाएगी

जिला मौलिक शिक्षा अधिकारी शमशेर सिंह सिरोही ने बताया कि विभाग के डायरेक्टर के आदेशानुसार बिना मान्यता के चल रहे प्राइवेट स्कूलों के खिलाफ एफआइआर दर्ज करवाई जाएगी। प्राइवेट स्कूलों में कागजात जांच करने के लिए सभी खंड शिक्षा अधिकारियों को आदेश दिए गए हैं। रिपोर्ट आने के बाद कार्रवाई की जाएगी।

Posted By: Jagran