जागरण संवाददाता, कैथल : सिसला गांव निवासी एक युवक ने जहरीला पदार्थ निगलकर अपनी जीवन लीला समाप्त कर ली। मृतक के पिता की शिकायत पर तितरम थाना पुलिस ने पत्नी, सास, ससुर व चचेरे ससुर के खिलाफ आत्महत्या के लिए मजबूर करने के आरोप में केस दर्ज कर लिया है। पुलिस ने मंगलवार को शव को पोस्टमार्टम करवाकर परिवार वालों को सौंप दिया।

गांव सिसला निवासी कपूर चंद ने तितरम थाना पुलिस को दी शिकायत में बताया कि उसका बेटा सुरेंद्र फतेहाबाद के गांव पारथा निवासी मधुबाला के साथ विवाहित था। पांच साल पहले दोनों की शादी हुई थी। विवाह के बाद एक बेटा व बेटी ने जन्म लिया। शिकायत में बताया कि 20 जून की रात को बेटे व बहू में किसी बात को लेकर कहासुनी हो गई। इसकी सूचना उसकी पुत्रवधु ने अपने मायके वालों को दे दी। इसके बाद मायके वाले यहां आ गए। इसमें उसके लड़के का ससुर रमेश कुमार, सास दर्शना देवी, चचेरा ससुर अजीत शामिल था। सभी ने मधुबाला के साथ मिलकर उसके बेटे के साथ मारपीट की और उसकी पुत्रवधु को साथ लेकर चले गए। आरोपितों ने दस दिन में 50 हजार रुपये देने की बात उसके बेटे को कही। पैसे का प्रबंध न करने देख लेने की धमकी दी। इस कारण उसके बेटे ने जहरीला पदार्थ खाकर अपनी जान दे दी। आरोपितों ने उसे आत्महत्या करने के लिए मजबूर किया। परिवार वालों का यह भी आरोप है कि विवाह के बाद से ही सुरेंद्र की पत्नी उसके साथ झगड़ा करती थी। यहां तक की सास व ससुर व ननद के साथ भी मारपीट करती थी। घेरलू कलह के चलते ही सुरेंद्र हर समय परेशान रहता था।

पुलिस ने शिकायत मिलने के बाद आत्महत्या के लिए मजबूर करने पर पत्नी, सास, ससुर व चचेरे ससुर के खिलाफ केस दर्ज कर लिया है। आरोपितों की गिरफ्तारी को लेकर जांच की जा रही है।

संदीप कुमार, जांच अधिकारी।

Edited By: Jagran