Move to Jagran APP

कलायत में भाजपा व कांग्रेस के बीच रोचक मुकाबला

इनेलो का गढ़ कहे जाने वाले कलायत में इस बार भाजपा व कांग्रेस प्रत्याशी के बीच रोचक मुकाबला है। जहां भाजपा ने पहली बार महिला प्रत्याशी पूर्व मंत्री नरसिंह ढांडा की पत्नी कमलेश ढांडा को टिकट थमा चुनावी मैदान में उतारा है वहीं कांग्रेस की टिकट पर दिग्गज नेता पूर्व केंद्रीय मंत्री जयप्रकाश चुनाव लड़ रहे हैं।

By JagranEdited By: Published: Mon, 07 Oct 2019 09:36 AM (IST)Updated: Mon, 07 Oct 2019 09:36 AM (IST)
कलायत में भाजपा व कांग्रेस के बीच रोचक मुकाबला
कलायत में भाजपा व कांग्रेस के बीच रोचक मुकाबला

जागरण संवाददाता, कैथल :

loksabha election banner

इनेलो का गढ़ कहे जाने वाले कलायत में इस बार भाजपा व कांग्रेस प्रत्याशी के बीच रोचक मुकाबला है। जहां भाजपा ने पहली बार महिला प्रत्याशी पूर्व मंत्री नरसिंह ढांडा की पत्नी कमलेश ढांडा को टिकट थमा चुनावी मैदान में उतारा है, वहीं कांग्रेस की टिकट पर दिग्गज नेता पूर्व केंद्रीय मंत्री जयप्रकाश चुनाव लड़ रहे हैं। वर्तमान में भी इस सीट पर जयप्रकाश विधायक हैं।

2014 के विधानसभा चुनाव में वे कांग्रेस की टिकट पर दावेदार थे, लेकिन कांग्रेस ने उनका टिकट काटते हुए पूर्व केंद्रीय मंत्री तेजेंद्रपाल मान के बेटे बॉबी मान को चुनाव मैदान में उतार दिया था जो कि चौथे स्थान पर रहे। जयप्रकाश ने पिछले चुनाव में इनेलो की टिकट पर चुनाव लड़े रामपाल माजरा को हराया था। माजरा 2009 के चुनाव में यहां से विधायक थे, लेकिन इस बार इस क्षेत्र के राजनीतिक समीकरण में बदलाव हुआ है।

लोकसभा चुनाव की बात करें तो इस क्षेत्र में भाजपा ने 36 हजार वोटों की बढ़ती बनाई, इससे पहले यहां भाजपा का प्रत्याशी जीत तो दूर की बात जमानत तक नहीं बचा पाते थे। इस क्षेत्र में जहां भाजपा का ग्राफ बढ़ा वहीं सबसे ज्यादा नुकसान इनेलो का हुआ। लोकसभा चुनाव में इनेलो की टिकट पर चुनाव लड़ रहे पूर्व मुख्यमंत्री ओमप्रकाश चौटाला के पोते अर्जुन सिंह चौटाला को इस क्षेत्र में मात्र 12 हजार वोट मिली थी। बसपा-लोसपा का प्रत्याशी भी इनेलो से ज्यादा वोट लेने में सफल रहा था।

पिछले विधानसभा चुनाव में ये रहा था प्रत्याशियों का वोट प्रतिशत

कलायत हलके से 2014 में निर्दलीय चुनाव लड़े जयप्रकाश को 51 हजार 106 वोट मिले थे। 33.44 प्रतिशत वोट रहा। इनेलो के रामपाल माजरा को 42 हजार 716 वोट मिले थे, 27.95 प्रतिशत वोट मिले। भाजपा के धर्मपाल शर्मा को 26 हजार 28 वोट मिले थे, 17.3 प्रतिशत वोट रहे, वहीं चौथे नंबर पर कांग्रेस पार्टी के प्रत्याशी रणबीर सिंह मान रहे थे, उन्हें 22 हजार 971 वोट मिले। 15.3 प्रतिशत वोट रहे। इस साल हुए लोकसभा चुनाव में सबसे वोट प्रतिशत भाजपा का बढ़ा।

जजपा ने पूर्व विधायक सतविद्र राणा पर खेला दांव

जननायक जनता पार्टी (जजपा) ने यहां से पूर्व विधायक सतविद्र राणा को चुनावी दंगल में उतार भाजपा और कांग्रेस के राजनीतिक समीकरण बिगाड़ दिए हैं। राणा इस क्षेत्र में आने वाले राजौंद हलके से 2005 में विधायक रहे हैं। 2009 के विधानसभा चुनाव से पहले यह हलका तोड़कर इसे कलायत क्षेत्र में शामिल कर दिया गया। वहीं इनेलो ने इस हलके के बड़े गांव किठाना निवासी ओमप्रकाश को मैदान में उतारा है। हरियाणा बनने के बाद वर्ष 1967 में इस हलके में पहला चुनाव लड़ा गया था, 2009 तक यह हलका आरक्षित सीट रहा है।

2005 में कांग्रेस की टिकट पर गीता भुक्कल ने लड़ा था चुनाव

कलायत विधानसभा क्षेत्र में 2005 में कांग्रेस पार्टी ने गीता भुक्कल को चुनाव मैदान में उतारा था। इस चुनाव में इनेलो ने प्रीतम सिंह कोलेखां को टिकट दिया था। गीता भुक्कल यह चुनाव जीतने में सफल रही थी। इसके बाद अगले चुनाव 2009 में यह हलका सामान्य हो गया। यहां से इनेलो के रामपाल माजरा ने कांग्रेस के तेजेंद्रपाल मान को हराया था। मान इससे पहले 2005 में पाई हलके से कांग्रेस का टिकट न मिलने पर निर्दलीय चुनाव लड़े थे, जो जीत गए थे। इसके बाद 2009 में कांग्रेस की टिकट लेने में सफल रहे। रामपाल माजरा इनेलो को छोड़कर भाजपा में शामिल हो गए हैं। भाजपा की टिकट पर दावेदार थे, लेकिन भाजपा ने कमलेश ढांडा को टिकट दिया है।

कलायत हलके में 2 लाख 764 मतदाता

कलायल हलके में कुल 2 लाख 764 मतदाता हैं। इनमें 1 लाख 8 हजार 320 पुरुष व 92 हजार 442 महिला मतदाता हैं। 206 कुल बूथ बनाए गए हैं। 65 के करीब हलके में गांव हैं।

कब कौन रहा इस क्षेत्र से विधायक

वर्ष प्रत्याशी पार्टी

1967 माडू राम स्वतंत्र पार्टी

1968 भगतू राम कांग्रेस

1972 भगत राम संगठन कांग्रेस पार्टी

1977 प्रीत सिंह जनता पार्टी (मंत्री)

1982 जोगी राम लोकदल

1987 बनारसी दास लोकदल

1991 भरत सिंह समाजवादी जनता पार्टी

1996 रामभज हरियाणा विकास पार्टी

2000 दिनाराम इनेलो

2005 गीता भुक्कल कांग्रेस

2009 रामपाल माजरा इनेलो

2014 जयप्रकाश निर्दलीय


Jagran.com अब whatsapp चैनल पर भी उपलब्ध है। आज ही फॉलो करें और पाएं महत्वपूर्ण खबरेंWhatsApp चैनल से जुड़ें
This website uses cookies or similar technologies to enhance your browsing experience and provide personalized recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.