जागरण संवाददाता, कैथल :

आरकेएसडी कॉलेज के सांध्यकालीन सत्र की ओर से शहीद भगत सिंह के जन्म दिवस की पूर्व संध्या पर श्रद्धांजलि समारोह आयोजित किया गया। कार्यक्रम में प्रबंधक समिति के महासचिव पंकज बंसल, पूर्व प्रो. बीबी भारद्वाज, सांध्यकालीन सत्र के प्रधान नवनीत गोयल अधिवक्ता ने मुख्यातिथि के रूप में शिरकत की। इस मौके पर विद्यार्थियों ने भगत सिंह पर कविता पाठ, गीत और भाषण प्रतियोगिता में हिस्सा लिया। प्रधान नवनीत गोयल ने भगत सिंह के आजादी दिलाने में योगदान को याद किया। प्राचार्य डॉ. संजय गोयल ने भी पुष्पा अर्पित कर श्रद्धांजलि दी। संध्याकालीन संत्र के प्राचार्य हरिद्र गोयल ने अतिथियों का स्वागत किया। इस मौके पर अव्वल रहे प्रतिभागियों को पुरस्कार देकर सम्मानित किया गया। इस मौके पर प्रो. मनोज बंसल, प्रो. मीना, सुरेंद्र, निधि गोयल, संयोगिता, ईला, नितिका, कुसुम, रेणू सहित अन्य मौजूद थे।

वहीं राजकीय प्राथमिक पाठशाला चंदाना में सरदार भगत सिंह के जन्मदिवस पर कार्यक्रम आयोजित किया गया। सरदार भगत सिंह की प्रतिमा पर सभी स्टाफ सदस्यों ने माल्यार्पण किया। अध्यापक अशोक कुमार ने कहा कि भगत सिंह को देशभक्ति की प्रेरणा अपने चाचा अजीत सिंह से मिली। बचपन में ही उन्होंने भारत माता की आजादी के स्वप्न देखने शुरू कर दिए थे। उन्होंने अपने साथियों के साथ मिलकर अंग्रेजी सरकार की नाक में दम कर दिया था। अंग्रेज अधिकारी सांडर्स की हत्या एवं केंद्रीय सभा में बम फेंकने के कारण राजगुरु व सुखदेव के साथ 23 मार्च 1931 को उनको फांसी दे दी गई। भगत सिंह ने दिखा दिया कि अपनी मातृ भूमि के लिए भारत के नौजवान अपने प्राणों का बलिदान देने को तैयार हैं। इस मौके पर मुख्य शिक्षक बलराम सिंह, अध्यापक राजेंद्र राविश, कमलदीप, धर्मवीर, कश्मीरी लाल, चांदीराम, रविप्रकाश, मैडम नम्रता, सारिका यादव मौजूद थी।

रंगारंग प्रस्तुतियां देकर देशभक्ति

का संदेश दिया

फोटो नंबर : 27

संस, कलायत : सावित्री बाई फूले पुस्तकालय कलायत में क्रांतिकारी युवा संगठन के तत्वावधान में शुक्रवार को भगत सिंह जयंती के अवसर पर कार्यक्रम आयोजित किया गया। जिसमें बच्चों ने अनेक रंगारंग प्रस्तुतियां देकर देशभक्ति का संदेश दिया। इस दौरान नन्हें बच्चों ने वतन ना बेच देना साथियों जैसे देशभक्ति गीतों से मौजूद लोगो में देशभक्ति का जज्बा जगाने के साथ ही देश के लिए बलिदान देने वाले शहीद भगत सिंह के आदर्शाें को अपनाने का संदेश दिया। युवा संगठन के सदस्य मोनू ने बताया कि शहीद भगत सिंह जैसे देशभक्तों ने देश को अंग्रेजों से आजाद तो करवा दिया, लेकिन इस आजादी को कायम रखना सभी देशवासियों व युवाओं की जिम्मेदारी है। हमारा देश आज भी गुलामियों कि बेड़ियों से जकड़ा हुआ है। इस मौके पर कुलदीप, अभिषेक, सलोनी, सन्नी, अर्चना, सोनिया, विनती व पुष्पा और संगठन से जुड़े दूसरे सदस्य मौजूद थे।

-

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप