संवाद सूत्र, उचाना : भजनलाल, बंसीलाल व राव बीरेंद्र ¨सह जैसे नेता प्रदेश के मुख्यमंत्री बनने के बाद केंद्रीय कैबिनेट में शामिल हुए थे। प्रदेश में मैं पहला ऐसा व्यक्ति हूं, जिसे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी व अमित शाह ने सीधे केंद्रीय कैबिनेट मंत्री बनाया है। अगले तीन वर्ष में पार्टी को मजबूत बनाने के लिए किसान, मजदूर व कमेरे वर्ग को भाजपा के साथ जोड़ा जाएगा। राजीव गांधी कॉलेज में ऐसे कोर्स शुरू किए जाएंगे, जिससे युवाओं को रोजगार मिल सके। प्रधानमंत्री सड़क योजना के तहत सड़कों पर 54 करोड़ रुपये की राशि खर्च की जाएगी। यह बातें केंद्रीय इस्पात मंत्री बीरेंद्र ¨सह ने बरवाला ब्रांच से संदलाना माइनर पर हैड सि¨फ्टग का उद्घाटन करने के बाद ग्रामीणों को संबोधित करते हुए कही।

उन्होंने कहा जींद में 11 सितंबर को होने वाली रैली में लाखों की भीड़ जुटाकर हमें भाजपा की ताकत को बढ़ाना होगा। हलके के विकास के लिए विधायक प्रेमलता आपके पास रहती है, फिर भी कोई अड़चन आए तो मुझे फोन कर देना। नया मंत्रालय मिलने के बाद जिले में उससे जुड़ी कोई फैक्ट्री लगवाने के प्रयास किये जाएंगे, ताकि युवाओं को रोजगार मिल सके।

करनाल से अधिक विकास कार्य उचाना में

विधायक प्रेमलता ने कहा कि पूर्व सरकारों के सौतेले व्यवहार के कारण युवा नौकरियों के मामले में पिछड़े हुए है। अब ऐसा नहीं होगा तथा आवेदन करने वाले युवाओं को योग्यता के आधार पर नौकरी मिलेगी। उन्होंने कहा कि भाजपा सरकार के कार्यकाल में करनाल से ज्यादा विकास कार्य उचाना विधानसभा में हुए हैं। जींद के पटियाला चौक से लेकर नरवाना कब आ जाता है पता ही नहीं चलता। इस मौके पर सेल कंपनी के चेयरमैन डॉ. पीके ¨सह, डीसी जींद विनय कुमार, एसपी आनंद शंशाक, एसडीएम बीर ¨सह, हरेंद्र डूमरखां, संजीव डूमरखां, डॉ. ओमप्रकाश पहल, ओमप्रकाश शर्मा, रिछपाल काब्रच्छा, सुरेंद्र श्योकंद, धर्मेंद्र चहल, श्रीकांत कहसून, सत्यनारायण बंसल, लीला श्योकंद, बीरेंद्र घोघड़िया, इंद्र फौजी, विकास बंसल, पिरथी श्योकंद, संजीव ढाकल, रामनिवास दनौदा, सुरेश श्योकंद मौजूद रहे।

पिता की याद में हैड शि¨फ्टग के लिए दी जमीन

उचाना खुर्द की भरतो देवी द्वारा अपने पिता दुनी चंद की याद में संदलाना माइनर का हैड 25 हजार से 32 हजार पर शि¨फ्टग करने के लिए एक कनाल तीन मरले जमीन दी। भरतो देवी ने कहा कि उसके पास जिन गांवों के किसानों की जमीन है वो आए और जमीन हैड शि¨फ्टग के लिए देने की मांग की। इन किसानों के आग्रह पर अपने पिता की याद में जमीन दी ताकि इन गांवों के खेतों में पानी पर्याप्त मात्रा में पहुंच सकें।

हेलीकाप्टर देखने उमड़े ग्रामीण

केंद्रीय इस्पात मंत्री बीरेंद्र ¨सह को हेलीकाप्टर काकड़ोद गांव में उतरा तो ग्रामीण हेलीकाप्टर को देखने के लिए पहुंचे गए। यहां पर ग्रामीण महिलाओं में हेलीकाप्टर देखने के लिए उत्साह देखने को मिला। लोगों ने दूर से सेल्फी लेने के साथ-साथ आने-जाते हेलीकाप्टर की वीडियो भी बनाई।

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस