केंद्रीय मंत्री चौ. बीरेंद्र ¨सह ने 73वें जन्मदिन पर गांव खरकबूरा में महायज्ञ में राजनीतिक विरोधियों पर कसा व्यंग्य

फोटो: 13, 35

जागरण संवाददाता, जींद, उचाना : केंद्रीय इस्पात मंत्री चौ. बीरेंद्र ¨सह ने कहा कि वह पिछले दिनों बीमार हो गए थे। तब लोग कहण लागे थे कि यो थोड़े दिनां का सै। मोदीजी ने मुझे कहा कि अमेरिका या मुंबई में इलाज करवाओ। मैं मुंबई गया और डॉक्टर ने इलाज के बाद कहा कि दस साल आपनै कोए खतरा कोनी। वह रविवार को अपने 73वें जन्मदिन पर गांव खरकभूरा में मुख्यमंत्री मनोहरलाल की मौजूदगी में समृद्धि सछ्वावना महायज्ञ में बोल रहे थे।

बीरेंद्र ¨सह ने कहा कि जब डॉक्टरों ने मुझे दस साल जीने की गारंटी दी तो मैंने कहा कि या खबर मत फैला दिया। कुछ लोग बाट देखैं सैं कद यो हटै अर म्हारा दाव लागै। इससे पहले बीरेंद्र ¨सह जब बोलने के खड़े हुए तो कुछ लोग भाजपा के झंडे लिए खड़े थे। उन्हें टोकते हुए बीरेंद्र ने कहा कि आज के टिकट बंडण लाग रही सैं। इनको नीचे करो। उन्होंने कहा कि आज भगवान राम के जन्मदिन और दुर्गाष्टमी पर मेरा भी जन्मदिन है। इनकी पूजा के साथ मेरा भी काम चलग्या। बीरेंद्र ¨सह ने अपने सियासी सफर में गांव खरकभूरा और कर¨सधु का अहम योगदान बताते हुए कहा कि यह गांव उनके लिए राजनीति की रीढ़ की हड्डी रहे हैं। उन्हें राष्ट्रीय नेता बनाने में इन गांवों का बड़ा योगदान रहा है। उन्होंने उचाना से 13 चुनाव लड़े हैं, खरकभूरा गांव में किसी दूसरे की वोट नहीं पड़ती। कोए तलै-तलै दे जावै तो दूसरी बात सै। बीरेंद्र ¨सह ने कहा कि आज मेरा 73वां जन्मदिन है, लेकिन आयोजक मध्य उत्तरी हरियाणा विकास संगठन ने एक साल घटाकर 72वां बता दिया। इस तरह एक-एक साल घटाते रहे तो मैं 40 साल का हो जाउंगा। इस पर लोगों ने ठहाके लगाए।

भाईचारे बिगाड़ने वाली ताकतों के खिलाफ लड़ता रहूंगा लड़ाई: बीरेंद्र

केंद्रीय मंत्री बीरेंद्र ¨सह ने कहा कि प्रदेश में पिछले कुछ समय से धर्म, जाति और संप्रदाय के नाम पर भाईचारा खराब किया जा रहा है। कोई भी राजनीतिक दल हो या कितना ही बड़ा नेता, वह ऐसी ताकतों के खिलाफ हमेशा लड़ाई लड़ते रहेंगे। पहले हरियाणा की अलग पहचान थी। यहां के भाईचारे की मिसाल दी जाती थी। पिछले कुछ समय से समाज को तोड़ने की कोशिश की गई है। अब लोगों की एक-दूसरे को देखकर आंखें जलती हैं। इस महायज्ञ में बैठे प्रकांड पंडित भी इस माहौल से आहत हैं। लेकिन वह ऐसे लोगों के खिलाफ संघर्ष करते रहेंगे।

सीएम बोले: बीरेंद्र इस्पात की तरह मजबूत मंत्री

मध्य उत्तरी हरियाणा विकास संगठन की ओर से नौ कुंडीय हवन यज्ञ बनाए गए थे। बीरेंद्र ¨सह अपनी विधायक पत्नी और परिजनों व नजदीकियों के साथ सुबह ही समारोह में पहुंच गए थे। उन्होंने करीब एक घंटे तक चले हवन यज्ञ में आहुतियां डाली। इसके बार करीब एक बजे मुख्यमंत्री ने भी समारोह में पहुंचकर यज्ञ में आहुतियां डालीं। मुख्यमंत्री ने कहा कि बीरेंद्र ¨सह इस्पात की तरह मजबूत मंत्री हैं। सीएम ने बीरेंद्र ¨सह को फूलों का गुलदस्ता देकर बधाई देते हुए कहा कि महायज्ञ से निकले विचार और भावनाएं आगे बढ़नी चाहिए। प्रदेश को सुख-शांति की जरूरत है। पिछले तीन साल से प्रदेश के सभी वर्गों एवं क्षेत्रों का बराबर विकास करवाकर भाजपा सरकार ने हरियाणा एक एवं हरियाणवी एक के नारे को सही साबित कर दिया है। अगले विधानसभा चुनाव में भी भाजपा हरियाणा में सरकार बनायेगी। अगली बार प्रदेश का और तेजी से विकास करवाया जायेगा।

अब 19 गांवों में होगी नहरी पेयजल आपूर्ति

मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने रविवार को गांव खरकबूरा में दस जलघरों में पं¨पग द्वारा नहरी पेयजल आधारित परियोजना का उद्घाटन किया। मुख्यमंत्री ने बताया कि 16 करोड़ की इस परियोजना में पहले 14 गांवों को सिरसा ब्रांच से नहरी पानी की सप्लाई होनी थी। अब इस परियोजना में गांव डूमरखां खुर्द, घसो खुर्द व कलां, उचाना खुर्द और काब्रछा को भी शामिल कर दिया गया है। इन गांवों में भूमिगत पानी खारा होने के कारण पीने के पानी की गम्भीर समस्या बनी हुई है। मुख्यमंत्री ने कहा कि मुख्यमंत्री ने कहा कि अब उचाना हलके के इन बीस गांवों में 70 लीटर प्रति व्यक्ति प्रतिदिन स्वच्छ पेयजल उपलब्ध हो जाएगा। कर¨सधु गांव के लोगों ने खेल परिसर में अतिरिक्त कमरों के निर्माण करने, रजवाहा में पानी की आपूर्ति को नियमित रूप से करने, गांव के स्कूल में ई-लाइब्रेरी स्थापित करने जैसी मांग भी रखी। इस पर मुख्यमंत्री ने व्यावहारिकता की जांच करवाकर पूरा करवाने का आश्वासन दिया।

पंडाल में स्क्रीन पर चला कुलदीप बिश्नोई का संदेश

फोटो: 35

महायज्ञ में केंद्रीय मंत्री बीरेंद्र ¨सह जब पंडितों और महिलाओं को सम्मानित कर रहे थे, तब पंडाल में लगी स्क्रीन पर कांग्रेस नेता कुलदीप बिश्नोई का संदेश शुरू हो गया। बिश्नोई कुर्सी पर बैठे कुछ बोल रहे थे। हालांकि उनकी आवाज बहुत कम थी, जो नजदीक पहुंचने पर ही सुनाई दे रही थी। बड़ी स्क्रीन पर बिश्नोई को देखकर वहां से गुजर रहे एक व्यक्ति ने तुरंत माइक सिस्टम वालों के पास पहुंचकर उसे बंद करवाया। इस दौरान काफी स्क्रीन पर कुलदीप को देखकर वहां खड़े हो गए थे।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप