जागरण संवाददाता, जींद : शहर की नेताजी कालोनी में आशानंद के घर बेटी पैदा होने पर कुआं पूजन किया गया। इस मौके पर महिलाओं ने खुशी के गीत गाए। आशानंद ने बताया कि उनकी पत्नी सोनू से उन्हें पहली बेटी हुई है। पहली बेटी पैदा होने पर पूरे परिवार में खुशी का माहौल है। सोनू ने कहा कि आज बेटियां बेटों से कम नहीं है। हर क्षेत्र में बेटियां बेटों का मुकाबला कर रही हैं। इसलिए बेटा-बेटी के बीच फर्क नहीं रखना चाहिए।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस