Move to Jagran APP

Jind News: उचाना के 28 गांवों को पीने के लिए मिलेगा भाखड़ा का नीला पानी : दुष्यंत चौटाला

उप मुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला ने कहा कि प्रदेश सरकार हर घर नल योजना के तहत द्वारा स्वच्छ पेयजल मुहैया करवाने के प्रति निरंतर प्रयासरत्त है। इसमें उचाना विधानसभा क्षेत्र के 28 गांवों में भी लोगों को भाखड़ा का स्वच्छ पेयजल उपलब्ध करवाने के लिए प्रोजेक्ट तैयार कर लिया गया है।

By Jagran NewsEdited By: Nidhi VinodiyaPublished: Wed, 01 Feb 2023 09:58 PM (IST)Updated: Wed, 01 Feb 2023 09:58 PM (IST)
Jind News: उचाना के 28 गांवों को पीने के लिए मिलेगा भाखड़ा का नीला पानी : दुष्यंत चौटाला
उचाना के 28 गांवों को पीने के लिए मिलेगा भाखड़ा का नीला पानी : दुष्यंत चौटाला

उचाना, संवाद सूत्र  : उप मुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला ने कहा कि प्रदेश सरकार हर घर नल योजना के तहत द्वारा स्वच्छ पेयजल मुहैया करवाने के प्रति निरंतर प्रयासरत्त है। इसके तहत उचाना विधानसभा क्षेत्र के 28 गांवों में भी लोगों को भाखड़ा का स्वच्छ पेयजल उपलब्ध करवाने के लिए प्रोजेक्ट तैयार कर लिया गया है। इस प्रोजेक्ट को आने वाले बजट में मंजूरी दिलवाई जाएगी।

loksabha election banner

इस प्रोजेक्ट के पूरा होने पर उचाना के 28 गांवों के लोगों को पीने के लिए भाखड़ा का नीला पानी उपलब्ध होगा। दुष्यंत चौटाला बुधवार को गांव करसिंधू में पूर्व मंत्री स्वर्गीय देशराज नंबरदार की 16वीं पुण्य तिथि पर आयोजित कार्यक्रम में पहुंचे। इस दौरान उन्होंने कहा कि पूर्व मंत्री स्वर्गीय देशराज नंबरदार ईमानदार एवं नेक इंसान थे। उनके परिवार के साथ चौ. देवीलाल की अब तक चार पीढ़ियों का राजनीतिक एवं सामाजिक रिश्ता रहा है।

नरवाना हेड से तीन बड़ी पाइप लाइन बिछाई जाएंगी

उन्होंने ग्रामीणों को संबोधित करते हुए कहा कि प्रस्तावित प्रोजेक्ट के तहत करोड़ों रुपये से बरवाला मेन ब्रांच तथा नरवाना हेड से तीन बड़ी पाइप लाइन बिछाई जाएंगी। इसके अलावा 10 करोड़ रुपये की लागत से चार गांवों में पानी के सुधारीकरण का कार्य भी किया जा रहा है। उन्होंने यह भी बताया कि बुर्जी नंबर 156 बरसोला माइनर का भी 57 करोड़ रुपये खर्च कर नवीनीकरण एवं सुधारीकरण किया गया है, जिससे पास लगते गांवों में खेतों की सिंचाई क्षमता में सुधार होगा। चौटाला ने कार्यक्रम से पहले गांव में अपने 51 लाख रुपये के स्वैच्छिक कोष से नवनिर्मित जन नायक चाै. देवीलाल ई- लाइब्रेरी का उद्घाटन किया और साथ ही प्रांगण में पौधारोपण भी किया। उप मुख्यमंत्री ने कहा कि आधुनिक तकनीकी एवं सुविधाओं से लैस डिजिटल ई- लाइब्रेरी में एक साथ 30 विद्यार्थियों को कंप्यूटर ट्रेनिंग तथा अन्य प्रतियोगिताओं की तैयारियों का मौका मिलेगा।

ई- लाइब्रेरी में प्रत्येक कंप्यूटर पर वाई फाई सुविधा

ई- लाइब्रेरी में प्रत्येक कंप्यूटर पर वाई फाई सुविधा से युक्त है। कार्यक्रम को जजपा प्रदेशाध्यक्ष सरदार निशान सिंह, जुलाना से जजपा विधायक अमरजीत ढांडा, हरियाणा खादी एवं ग्रामोद्योग बोर्ड के चेयरमैन राजेंद्र लितानी, विश्ववीर उर्फ काला नंबरदार, सुमित राणा ने भी संबोधित किया। कार्यक्रम में पूर्व विधायक रामकुमार कटवाल, पूर्व विधायक पिरथी नंबरदार, उप मुख्यमंत्री के निजी सचिव प्रो. जगदीश सिहाग, जजपा जिला अध्यक्ष कृष्ण राठी, रामचंद्र सरपंच, जिला परिषद प्रधान चेयरपर्सन प्रतिनिधि कुलदीप रंधावा, भीम मलिक, रघबीर नैन दनौदा, सतबीर सिंह उपस्थित रहे।

डिजिटल लाइब्रेरी से गांवों में बढ़ेगा शिक्षा का स्तर

उप मुख्यमंत्री ने बताया कि केंद्र सरकार द्वारा घोषित पांच प्रमुख घोषणाओं में देशभर के ग्रामीण क्षेत्रों में ई- लाइब्रेरी की स्थापना भी शामिल है। जो पौधा हमने लगाना शुरू किया था, नरवाना, उचाना से आज वो वट वृक्ष का स्वरूप ले गया है। अब तो देश के लाखों गांवों में डिजिटल लाइब्रेरी गांव के बच्चों के विकास, सुधार, शिक्षा के नए उजाले का योगदान देने का काम करेंगी। आने वाला युग तकनीकी काबिलियत का होगा और इसी के आधार पर बेरोजगार युवा अपना स्वरोजगार स्थापित करने में सक्षम होंगे। युवाओं को आइटीआइ की नई तकनीकों की जानकारी एवं प्रशिक्षण दिलाने के लिए सरकार द्वारा प्रभावी योजनाओं पर कार्य किया जा रहा है।

प्रशिक्षण लेकर स्वरोजगार स्थापित कर सकेंगे युवा

उन्होंने कहा कि 32 करोड़ रुपये की लागत से सीएसआर के तत्वावधान में उचाना की आइटीआइ में पहले ही कौशल प्रशिक्षण केंद्र चलाया जा रहा है। 40 करोड़ रुपये की लागत से चालक प्रशिक्षण केंद्र की स्थापना का भी प्रविधान किया गया है, जो भविष्य में बेरोजगार युवकों को चालक प्रशिक्षण के साथ- साथ मोटरसाइकिल रिपेयर इत्यादि की जानकारी भी उपलब्ध करवाएंगे।

करसिंधू में करोड़ों रुपये विकास कार्यों पर होंगे खर्च

दुष्यंत चौटाला ने गांवों के अन्य दो तालाबों का सौंदर्यीकरण करवाने का ऐलान किया। एक अप्रैल से शिवधाम योजना के दूसरे चरण में इन्हें शामिल कर लिया जाएगा। लड़कियों के स्कूल को छात्र संख्या पूरी होने पर 12वीं कक्षा तक अपग्रेड करने और श्मशान घाटों की चहारदीवारी, पक्का रास्ता, शेड बनवाने के लिए एसडीएम को फिजिबिलिटी देखकर मनरेगा के तहत एस्टीमेट भिजवाने, गांव में परचेज सेंटर, स्टेडियम में खेल नर्सरी जैसी मांगों को पूरा करने का भी आश्वास दिया।


Jagran.com अब whatsapp चैनल पर भी उपलब्ध है। आज ही फॉलो करें और पाएं महत्वपूर्ण खबरेंWhatsApp चैनल से जुड़ें
This website uses cookies or similar technologies to enhance your browsing experience and provide personalized recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.