जागरण संवाददाता, जींद : कांग्रेस के राष्ट्रीय मीडिया प्रभारी रणदीप ¨सह सुरजेवाला ने कहा कि इनेलो दलितों की बैशाखियां बनाकर सत्ता हासिल करना चाहती है। इनेलो में कोई भी राजनीतिक लड़ाई नहीं हैं, बल्कि लूट के माल के बंटवारे को लेकर लड़ाई हैं। बड़ा कहता है छोटा उसका भाई व छोटा कहता है बड़ा उसका भाई, दोनों भाईयों की इस लड़ाई को सत्ता की लड़ाई बता रहे हैं। सुरजेवाला रविवार को जींद के हुड्डा ग्राउंड में आयोजित गरीब अधिकार रैली को संबोधित कर रहे थे। उन्होंने कहा कि चौधरी देवीलाल का वह सम्मान करते है, लेकिन उनकी विरासत किन लोगों के हाथ में आ गई यह सोचने पर मजबूर कर रही है। वह स्वर्ग में बैठे हुए सोच रहे होंगे की विरासत किन हाथों में दे दी। चौधरी देवीलाल को यह पता नहीं था कि पीएम नरेंद्र मोदी की हवा बहुत ही खतरनाक है, अबकी बार पोते के कान में फूंक मार रखी है। बच्चे भी उसी पार्टी के हाथ में खेल रहे हैं, जिनके हाथ में साढ़े चार साल से उनका चाचा खेल रहा था। ना चाचा भाजपा के खिलाफ और ना ही भतीजे खिलाफ। दोनों एक दूसरे पर भाजपा से मिलीभगत के आरोप लगा रहे हैं, लेकिन हमाम में सभी नंगे हैं। जब पीएम नरेंद्र मोदी को गद्दी से हटाने के लिए संसद में अविश्वास प्रस्ताव लेकर आए तो मोदी के पक्ष में सांसद दुष्यंत चौटाला ने उनके खिलाफ वोट डालने की बजाए संसद को छोड़कर चला गया था। जब भाजपा ने राष्ट्रपति पद के लिए अपना उम्मीदवार खड़ा किया तो उसका भी सांसद दुष्यंत चौटाला ने समर्थन किया। उस समय तो चाचा-भतीजा एक थे, क्या दोनों ने उस समय राय करके भाजपा का साथ दिया था। जिनकी आपस में जूतम पैजार है, वह प्रदेश के गरीब व दलित के अधिकारों की क्या रक्षा कर सकते हैं। भाजपा पर निशाना साधते हुए कहा कि भाजपा देश के संविधान से छेड़छाड़ करके दलितों के आरक्षण को खत्म करना चाहती है। इसके लिए आरएसएस के नेता लगातार आरक्षण के खिलाफ लगे हुए हैं।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस