जागरण संवाददाता, कैथल : 28 मार्च को 134ए के दाखिलों के लिए ऑनलाइन आवेदन शुरूहुए थे। कैथल ब्लॉक में एक मई को पहले चरण की सूची जारी हुई और 1163 बच्चों को स्कूल अलॉट किए गए। हालात देखिए 687 बच्चे स्कूलों में दाखिला लेने ही नहीं गए। पहले चरण में सिर्फ 470 विद्यार्थियों ने ही दाखिला लिया।

पूरे जिले में विद्यार्थियों की संख्या करीब पांच हजार थी, लेकिन दाखिला करीब 40 प्रतिशत विद्यार्थियों ने ही लिया। इनमें से भी कई अभिभावक अलॉट किए गए स्कूलों में दाखिला नहीं लेना चाहते थे, लेकिन बच्चे दो महीने से घर बैठे थे। मजबूरी में बच्चों को दाखिला दिलाया गया।

इससे पहले ऐसा कभी नहीं हुआ था। अमूमन पहला चरण अप्रैल महीने में ही पूरा हो जाता था, लेकिन इस बार ऑनलाइन दाखिलों के झंझट के कारण यह चरण दो जून को पूरा हुआ। कैथल ब्लॉक में करीब तीन हजार आवेदन आए थे, जिनमें से परीक्षा और मेरिट के अनुसार 2150 विद्यार्थियों को स्कूल दिए जाने थे।

पहले चरण में 25 से 30 प्रतिशत बच्चों ने ही दाखिला लिया। दाखिले कम होने का कारण पसंद का स्कूल नहीं मिलना और दाखिलों में हो रही लगातार देरी रहा है। परेशान अभिभावकों ने या नजदीकी निजी या सरकारी स्कूलों में बच्चों का दाखिला करवा दिया।

बॉक्स

दूसरे चरण में भी हो सकती है देरी

दूसरे चरण के लिए दाखिलों में देरी हो सकती है। विभाग की ओर से जारी शेड्यूल के अनुसार जो विद्यार्थी दाखिले से वंचित रह गए हैं, वे दोबारा से ऑनलाइन आवेदन कर नए सिरे से स्कूलों का चयन कर सकते हैं। पहले तीन जून को दो बजे वेबसाइट चलने का मैसेज अभिभावकों को दिया गया था, लेकिन जब दो बजे भी वेबसाइट नहीं चली तो फिर सात बजे का मैसेज दिया। वेबसाइट नहीं चलने से अभिभावक परेशान हैं।

बॉक्स

नाना-नानी के घर भी

नहीं जा पा रहे विद्यार्थी

अभिभावक अमरगढ़ गामड़ी निवासी निशा , सेठ मोहल्ला निवासी रामसुधार और अमरगढ़ गामड़ी निवासी मुरारी ने बताया कि पहले चरण में दाखिला नहीं हो पाया है। अब दूसरे चरण के लिए पूछताछ करने आए थे। दो महीने से ज्यादा समय से बच्चे घर बैठे हैं। इनके दोस्त गर्मियों की छुट्टियों में घूमने के लिए अपने नाना-नानी के घर भी चले गए हैं, लेकिन लगता है कि हमारे बच्चों का तो पूरा महीना दाखिलों में ही निकल जाएगा।

बॉक्स

जल्द हो जाएंगे सभी बच्चों के दाखिले

जिला मौलिक शिक्षा अधिकारी शमशेर सिंह सिरोही ने बताया कि पहला चरण पूरा हो चुका है। सात जून को दूसरे चरण के स्कूल भी अलॉट कर दिए जाएंगे। निजी स्कूलों को आदेश दिए गए हैं कि वे छुट्टियों में भी बच्चों को दाखिला देंगे।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस