जागरण संवाददाता, जींद : रोडवेज के जींद डिपो में बसों की बढि़या केएमपीएल (किलोमीटर प्रति लीटर) और अच्छी रिसीट लाने वाले टॉप 28 कर्मचारियों को बुधवार को सम्मानित किया जाएगा। 9 चालकों, 9 परिचालकों और 10 मैकेनिकों को डिपो महाप्रबंधक बिजेंद्र हुड्डा और वर्कशॉप मैनेजर गुलाब सिंह दूहन द्वारा प्रशस्ति पत्र दिया जाएगा।

बता दें कि प्रदेश सरकार द्वारा जींद डिपो ही नहीं, हरियाणा के सभी डिपो को घाटे से उबारने और चालकों के मनोबल को बढ़ाने के उद्देश्य से यह योजना बनाई गई थी कि रोडवेज के जो भी ड्राइवर-कंडक्टर बसों की सही एवरेज और रिसीट निकालकर डिपो की आमदनी बढ़ाने में सहयोग करेंगे, उन चालक-परिचालकों को सरकार द्वारा सम्मानित किया जाएगा। इसके तहत कुछ मापदंड तय किए गए हैं। इनमें बस की एवरेज 40 की मांगी गई है। जींद डिपो के कई चालकों द्वारा वर्तमान स्थिति के हिसाब से बसों की एवरेज 40 से भी ज्यादा निकाली जा रही है। पिछले 2 महीने के दौरान केएमपीएल, बसों की मेंटिनेंस, रैगुलरिटी, किलोमीटर, रिसीट, व्यवहार आदि को ध्यान में रखते हुए जींद डिपो प्रबंधन द्वारा 28 कर्मचारियों की सूची तैयार की गई है। इनमें 9 चालक, 9 परिचालक और 10 मैकेनिक शामिल हैं।

----------------------------

इन चालक-परिचालकों को किया जाएगा आज सम्मानित

बुधवार को जिन चालक-परिचालकों और मैकेनिकों को सम्मानित किया जाएगा, उनमें जींद डिपो, नरवाना और सब-डिपो से चालक-परिचालकों और मैकेनिकों को शामिल किया गया है। राजपाल और राजेश चालक वह हैं, जो इससे पहले भी सम्मानित हो चुके हैं।

-----------------------

दूसरों को भी मिलेगी बेहतर काम करने की प्रेरणा

जींद डिपो के महाप्रबंधक बिजेंद्र हुड्डा और वर्कशॉप मैनेजर गुलाब सिंह दूहन ने बताया कि बुधवार को उन चालक-परिचालकों को सम्मानित किया जाएगा, जिन्होंने 2 महीने में बसों की एवरेज बेहतर निकालकर और रिसीट बढ़ाकर डिपो की आमदनी बढ़ाने का काम किया है। इससे दूसरे चालक-परिचालकों को भी बढि़या काम करने की प्रेरणा मिलेगी। दूहन ने कहा कि रोडवेज में सबसे कठिन और कष्टदायक नौकरी चालकों की होती है। लगातार कई-कई घंटों तक एक ही सीट पर बैठकर ड्राइविग, यात्रियों को ध्यान, सेफ ड्राइविग, किलोमीटर पूरे करना समेत सभी बातों का ध्यान चालकों को रखना पड़ता है। यह चालक वास्तव में सम्मान के हकदार हैं।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप