संवाद सूत्र, जुलाना : जुलाना में विधानसभा चुनाव शांतिपूर्ण ढंग से संपन्न हुआ। कड़े सुरक्षा इंतजामों के बीच मतदान सुबह सात बजे शुरू हुआ और शाम छह बजे तक चला। 10 बजे से एक बजे तक बूथ पर ज्यादा भीड़ नहीं दिखाई दी। जुलाना विधानसभा क्षेत्र में विस चुनावों को लेकर 199 मतदान केंद्र बनाए गए थे। इनमें से जुलाना के राजकीय कन्या वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय व प्राथमिक कन्या विद्यालय में सखी मतदान केंद्र बनाएं गए थे। यहां पर पोलिग करवाने के लिए महिला स्टाफ लगाया गया था। जुलाना विधानसभा क्षेत्र में लगभग 1 लाख 72 हजार से अधिक मतदाता है। जुलाना में सुबह 10 बजे तक लगभग 20 प्रतिशत और एक बजे तक करीब 35 प्रतिशत मतदान हुआ।

------

एडीजीपी ने किया जुलाना के मतदान केंद्रों का निरीक्षण

पुलिस ऑब्जर्वर एवं एडीजीपी अनिल ने जुलाना विधानसभा क्षेत्र के मतदान केंद्रों का निरीक्षण किया। जुलाना के राजकीय कन्या वरिष्ठ विद्यालय में बनाए गए बूथ नंबर 159, 160 व 162 का निरीक्षण किया। बूथ नंबर 159 पर ज्यादा लोग बिना लाइन बनाएं अंदर कमरे में मौजूद मिले तो पोलिग पार्टियों को डांट लगाई। एक पार्टी के दो एजेंट कमरे में बैठे मिले। एक को कमरे से बाहर निकाल दिया। इसके बाद जब वह दूसरे बूथ में गए तो पोलिग पार्टी आराम फरमाते मिले, वहां पर कोई मतदाता मौजूद नहीं था।

---------------------------------

कंट्रोल यूनिट की बैट्री हुई खराब

गतौली गांव के सरकारी स्कूल में बने एक बूथ की कंट्रोल यूनिट की बैट्री में खराबी आ गई। जिसके बाद पोलिग पार्टी द्वारा बार-बार बैट्री को बदला गया। दोपहर से पहले तीन बार बैट्री को बदला गया। बैट्री खराब होने के कारण मतदान धीमी गति से हुआ। इस मतदान केंद्र पर दूसरे मतदान केंद्रों की अपेक्षा ज्यादा वोट थी। इस मतदान केंद्र पर 1142 कुल मतदाता थे। 10 बजकर 35 मिनट पर 292 वोट पोल हो चुकी थी।

--------------------------------

वीवीपैट मशीन से मतदाताओं को मिला भरोसा

विधानसभा चुनाव में पहली बार ईवीएम मशीन के साथ लगी वीवीपैट मशीन ने मतदाताओं को भरोसा दिलाने का काम किया है। मतदाताओं का कहना है कि जिस समय उनके द्वारा अपने उम्मीदवार को वोट डालने के लिए ईवीएम मशीन में बटन दबाने का काम किया तो साथ रखी वीवीपै मशीन द्वारा कुछ ही समय पश्चात उसी उम्मीदवार का चुनाव चिन्ह दिखाने का काम किया।

-------------------

इन उम्मीदवारों की किस्मत ईवीएम में हुई कैद

जुलाना विधानसभा से उम्मीदवार भाजपा के परमेंद्र सिंह ढुल, जेजेपी के अमरजीत ढांडा, कांग्रेस के धर्मेंद्र ढुल, लोकतंत्र सुरक्षा पार्टी से रामफूल शर्मा, इनेलो से अमित निडानी, बीएसपी से नरेश गौतम सहित 15 अन्य उम्मीदवारों की किस्मत मतदान के बाद ईवीएम मशीन में कैद हो गई है।

---------------------------------

मालवी गांव में 90 वर्षीय व बुढ़ाखेड़ा में 80 वर्षीय महिला ने किया मतदान

विधानसभा चुनाव में महिलाओं में वोट डालने के लिए उत्साह दिखाई दिया। मालवी गांव में 90 वर्षीय मूर्ति देवी जो चल-फिर नहीं सकती, फिर भी वोट डालने के लिए पहुंची। उनका पोता सुरेंद्र उन्हें गोदी में उठाकर मतदान केंद्र तक लाया। जुलाना निवासी रामदिया दिव्यांग होते हुए भी वोट डालने के लिए पहुंचा। बुढ़ाखेड़ा लाठर गांव में 80 वर्षीय सज्जनी भी चलने-फिरने में असमर्थ थी। लेकिन वह परिवार का सहारा लेकर वोट डालने के लिए मतदान केंद्र तक पहुंची।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप