जागरण संवाददाता, जींद : लोहचब गांव में महिला की संदिग्ध परिस्थितियों में मौत के बाद नागरिक अस्पताल में पोस्टमार्टम हाउस के बाहर मायका पक्ष और ससुराल पक्ष के लोगों के बीच हंगामा हो गया। मायका पक्ष की सूचना के बाद सदर थाना पुलिस मौके पर पहुंची और पोस्टमार्टम करवाने की बात कही। महिला के शव को पोस्टमार्टम के लिए शवगृह में रखवा दिया गया। लोहचब गांव के विजयपाल की 49 वर्षीय पत्नी मूर्ति की शुक्रवार सुबह संदिग्ध परिस्थितियों के चलते मौत हो गई थी। मूर्ति की मौत की सूचना मायका पक्ष को दी गई तो मायका पक्ष ने महिला की मौत पर संदेह जताया और योजनाबद्ध तरीके से हत्या का आरोप लगाया। मृतक महिला के ससुराली पक्ष के लोगों का कहना था कि महिला बीमार थी और उसकी अचानक मौत हुई है। लेकिन मायका पक्ष ने यह बात नहीं मानी। हालांकि मृतक महिला के शरीर पर किसी प्रकार का कोई निशान नहीं था। जब दोनों पक्ष अंतिम संस्कार पर सहमत हुए, तो सदर थाना प्रभारी दिनेश कुमार मौके पर पहुंचे और शव के पोस्टमार्टम की बात कही, ताकि सब कुछ स्पष्ट हो सके। ससुराल के लोगों ने पोस्टमार्टम करवाने से मना कर दिया और विरोध करने लगे। लेकिन पुलिस बल ज्यादा होने के कारण उनकी नहीं चली। मृतका के बेटे विरेंद्र ने बताया कि उसकी मां बीमार थी। इस कारण उसकी अचानक मौत हो गई। उसके मामा हिसार के गांव किरोड़ी निवासी रामदिया ने संदेह जताया था। लेकिन बाद में वह संतुष्ट भी हो गए। सदर थाना प्रभारी दिनेश कुमार ने बताया कि महिला के मायका पक्ष द्वारा संदिग्ध मौत की सूचना दी गई थी। शव को पोस्टमार्टम के लिए नागरिक अस्पताल लाया गया है। शव का मेडिकल बोर्ड द्वारा शनिवार को पोस्टमार्टम करवाया जाएगा।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस