जागरण संवाददाता, जींद : डीआरडीए के सामने स्थित हुडा मार्केट में चुनाव आयोग की टीम ने पुलिस को साथ लेकर एक दुकान पर छापेमारी करके मतदाताओं को पैसे वितरित करने के आरोप में हिरासत में लिया। छापेमारी का पता चलते ही वहां पर बैठे कुछ लोग फरार हो गए। पकड़ा गया युवक भिवानी रोड स्थित वाल्मीकि बस्ती निवासी अमन है। टीम द्वारा पकड़े जाने के बाद भी उसके फोन पर लगातार फोन आ रहे थे। जब पुलिस ने युवक के फोन को फ्री होल्ड करके सुना तो उसमें बात करने वाले लोग भी वोट के बदले पैसे के लेन-देन की बात कह रहे थे। उसके पकड़े गए युवक के हाथ से भाजपा का बैंड मिला है। अमन के परिवार का एक सदस्य भाजपा का पदाधिकारी है।

जजपा प्रत्याशी महाबीर गुप्ता के समर्थकों ने सोमवार दोपहर बाद सूचना दी कि हुडा मार्केट में एक दुकान पर कुछ लोग बैठे हुए है और शहर की बहारी कॉलोनियों से मतदाताओं को फोन करके बुलाया जा रहा है और भाजपा प्रत्याशी के समर्थन में वोट करने के लिए पैसे वितरित कर रहे हैं। इसके बाद चुनाव अधिकारी महीपाल पुलिस को साथ लेकर मौके पर पहुंच गए। जैसे की पुलिस की गाड़ी दुकान के बाहर खड़ी हुई तो दुकान के अंदर बैठे करीब तीन-चार लोग मौका पाकर वहां से फरार हो गए। जहां पर युवक शुरुआत में गुमराह करता रहा, लेकिन बार-बार उससे सवाल करने पर वह बातों पर उलझता गया। इसी दौरान उसके पास आने वाले फोनों ने टीम के शक को गहरा दिया। इस दौरान टीम ने जिस दुकान पर बैठे हुए थे उसकी भी तलाशी ली, लेकिन वहां से नकदी बरामद नहीं हुई। इस दौरान दुकान पर बैठी महिला से भी पूछताछ की, लेकिन उसने कहा कि वह युवकों को नहीं जानती। चुनाव अधिकारी महीपाल ने कहा कि मामला संदिग्ध है, लेकिन जांच पूरी होने के बाद ही ही कुछ कहा जा सकता है।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप