संवाद सूत्र, बेरी : त्योहार के मौके पर गोद लिए गांव दुबलधन में पहुंचे पुलिस कप्तान पंकज नैन ने युवाओं को आह्वान करते हुए कहा कि त्योहार हमें जोड़ने का काम करते हैं और उसी तर्ज पर खेल भी हमें बेहतर सोच के साथ आगे बढ़ने का मार्ग प्रशस्त करते हैं। युवा वर्ग अगर इसी सोच को केंद्र में रखते हुए अपना लक्ष्य तय करेगा तो जीवन में सफलता मिलनी निश्चित है। यहां पर खिलाड़ियों ने भी पुलिस कप्तान पंकज नैन के साथ खुलकर बातचीत की और अपनी जिज्ञासा को शांत किया।

गोद लिए 8 गांवों के लिए होगी प्रतियोगिता :

यहां उन्होंने घोषणा करते हुए बताया कि अब पुलिस द्वारा गोद लिए गए 8 गांव की खेल प्रतियोगिता आयोजित कराई जाएगी। 8 गांव के युवा खिलाड़ियों एवं बच्चों के बीच मुख्य रूप से कबड्डी , वालीवाल एवं रस्साकशी आदि मैच आयोजित किए जाएंगे । प्रतियोगिता में कबड्डी की विजेता टीम को 51 हजार , वॉलीबाल व रस्साकशी की टीमों को 21-21 हजार रुपये की नगद इनाम राशि दी जाएगी। गांव दुबलधन मे आयोजित कबड्डी प्रतियोगिता के सफल आयोजन पर बधाई देते हुए कहा कि ऐसे आयोजनों से युवाओं में खेल के प्रति उत्साह बढ़ता है। इसी कड़ी में गांव पाटोदा और दुबलधन की टीमों के बीच आज के मैच बहुत ही रोमांचक व उत्साहवर्धक रहे । उन्होंने कहा कि सछ्वावना खेलों का मकसद पुलिस और पब्लिक के बीच सौहार्द पूर्ण वातावरण कायम करना और शांति एवम कानून व्यवस्था बनाये रखने में एक दूसरे की मदद करना है। युवाओं को बुरी आदतों, व्यसनों से रोकना, नेकी के मार्ग पर चलते हुए सर्वप्रिय कार्य करने के लिए प्रेरित करना तथा खेलों के माध्यम से ग्रामीण युवाओं की छुपी हुई प्रतिभा को निखारना है । युवाओं को खेलों की ओर आकर्षित करना , युवाओं की इच्छा अनुसार रोजगार के लिए मार्गदर्शन का उचित प्रबंध भी स्थानीय पुलिस द्वारा किया जाएगा । विजेता खिलाड़ियों को ट्रॉफी देकर सम्मानित किया गया । इस अवसर पर डीएसपी बेरी अजमेर ¨सह , कबड्डी कोच मनजीत ¨सह , थाना प्रबंधक बेरी सोमबीर तथा गांव के सरपंच सहित अन्य मौजिज व्यक्ति मौजूद रहे।

Posted By: Jagran