भिवानी, जेएनएन। भले ही समाज में महिलाओं की स्थित‍ि बेहतर होने की बातें की जाती रही हों मगर आज भी बहुत सी महिलाएं ऐसी है जिन्‍हें समाज की दकियानुसी सोच का दुष्‍परिणाम भुगतना पड़ता है। ऐसा ही मामला सामने आया है। भिवानी के गांव खरक कलां निवासी दो सगी बहनों द्वारा दहेज मांग पूरी न किए जाने व रंग काला होने पर उनके ससुरालियों ने मारपीट कर घर से निकाल दिया है। दोनों बहनों ने मामले की शिकायत पुलिस अधीक्षक से की। एसपी के आदेश पर सदर थाना पुलिस ने दोनों के पति सहित सात व्यक्तियों के खिलाफ विभिन्न धाराओं के तहत केस दर्ज किया है। पुलिस द्वारा आरोपितों की गिरफ्तारी का प्रयास किया जा रहा है।

गांव खरक कलां निवासी पिंकी ने पुलिस को दी गई शिकायत में बताया कि उसकी और उससे छोटी बहन मंजू की शादी 2 दिसंबर 2015 को गांव बिठमड़ा हिसार में की थी। पिंकी की शादी संदीप के साथ की गई, जबकि उसकी छोटी बहन मंजू की शादी कुलदीप के साथ की गई। शादी में काफी दान दहेज दिया गया, लेकिन शादी के कुछ दिन बाद ही उनसे और दहेज लाने की मांग की जाने लगी। यह मांग पूरी ना किए जाने पर मारपीट की जाती। पिंकी ने कहा कि उसकी बहन मंजू का रंग काला होने पर उसके प्रताडि़त किया जाता और उसे शादी के दस दिन बाद ही घर से निकाल दिया।

पिंकी ने कहा कि उसे दो बच्चे हैं। तीन साल की लड़की व एक माह दस दिन का लड़का। दोनों बच्चों के साथ उसे भी मारपीट कर घर से निकाल दिया गया है। उसने मामले की शिकायत सदर पुलिस थाने में की। पुलिस ने दोनों के ही पति, सास, ससुर सहित सात व्यक्तियों के खिलाफ केस दर्ज किया है। पुलिस द्वारा आरोपितों को गिरफ्तार करने का प्रयास किया जा रहा है।

Posted By: Manoj Kumar

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस