फोटो- 38

जागरण संवाददाता, हिसार : हिसार से तलवंडी राणा उकलाना बरवाला रोड के वैकल्पिक मार्ग की मांग को लेकर ग्रामीणों व हिसार से तलवंडी राणा रोड संघर्ष समिति द्वारा दिए जा रहे धरने के 22वें दिन शनिवार को पांच ग्रामीण भूख हड़ताल पर बैठे। आज भूख हड़ताल पर बैठने वाले ग्रामीणों में कृष्ण मुक्कड़, लीलाराम कोहली, रितिक रहेजा, काला मणकस, डा. सीताराम जांगड़ा शामिल रहे। ग्रामीणों के भूख हड़ताल पर बैठने से पहले धरना स्थल पर हवन-यज्ञ कर सरकार को सद्बुद्धि की प्रार्थना की गई। तलवंडी राणा रोड बचाओ संघर्ष समिति के अध्यक्ष एडवोकेट मनोज कोहली ने बताया कि इतनी ठिठुरती ठंड में पिछले 22 दिनों से हम धरने पर बैठे हैं लेकिन ज्ञापन, मांगपत्र तथा 3 सप्ताह के धरने के बावजूद सरकार लगातार ग्रामीणों की मांग की अनदेखी कर रही है जिससे आस-पास के गांवों के लोगों में सरकार के प्रति रोष बढ़ता जा रहा है। उन्होंने कहा कि सरकार ग्रामीणों के धैर्य की परीक्षा ले रही है। कोहली ने कहा कि अब रोजाना 5 ग्रामीण क्रमिक भूख हड़ताल पर बैठेंगे। उन्होंने कहा कि ग्रामीण अपने हक की बात उठा रहे हैं जिसे सरकार को तुरंत पूरा करना चाहिए। उन्होंने बताया कि इसके साथ ही लगातार विभिन्न गांवों के सरपंचों, पंचों, बरवाला के पार्षदों तथा खापों से समर्थन जुटाया जा रहा है। वर्तमान रोड को बंद कर देने से लाखों ग्रामीणों का जीवन प्रभावित होगा इसलिए सरकार बिना किसी देरी के ग्रामीणों की मांग को पूरा करे। जब तक सरकार हमें सेक्टर-3 से सबसे छोटा वैकल्पिक मार्ग नहीं दे देती हमारा धरना जारी रहेगा। धरने पर ओपी कोहली की अध्यक्षता में भूपेंद्र गंगवा, होशियार सिंह सिवाच, सुरेंद्र कोहली, त्रिलोक पंच, जयपाल गुरी, महावीर, डॉ. सीताराम सहित सैकड़ों लोगों ने धरने को समर्थन दिया व हस्ताक्षर अभियान में शामिल हुए।

Edited By: Jagran