हिसार, जेएनएन। साइबर क्राइम के मामलों में आ रही पीड़ित की दिक्कतों को देखते हुए नवनियुक्त एसपी गंगाराम पूनिया ने नई व्यवस्था की है। पीड़ित को अब एक थाने से दूसरे थाने में चक्कर नहीं काटने पड़ेंगे। जिस थाने में जाकर वह शिकायत देगा, वहां की पुलिस उस शिकायत को लेगी। उसके बाद थाना प्रभारी उस शिकायत को संबंधित थाने में भेज सकता है। एसपी गंगाराम ने यह बात पत्रकारों से बातचीत करते हुए कही। उन्होंने कहा कि साइबर क्राइम के मामले में आइटी एक्ट का लगाना जरूरी है।

आज के समय में ऐसे अपराध बढ़ रहे हैं। उनको सुलझाने के लिए भी तेजी से कदम उठाए जा रहे हैं। आइटी से जुड़े अपराध के मामलों की इंस्पेक्टर लेवल का अधिकारी जांच करता है। कोई पीड़ित दुखी न हो और थानों के चक्कर न काटे, ऐसी व्यवस्था की जाएगी। इस संबंध में वे थाना प्रभारियों की जल्द बैठक भी लेंगे।

थानों में दोनों पक्षों की होगी सुनवाई

एसपी गंगाराम पूनिया ने कहा कि थाने में ऐसी व्यवस्था होगी कि दोनों पक्षों की बात सुनी जाए। इससे मामले को समझ कर उसको निपटाने में दिक्कत नहीं होगी। साथ ही पुलिस कर्मचारियों को नवीनतम जानकारी देने के लिए ट्रे¨नग भी दी जाएगी। उन्होंने कहा कि पुलिस वेलफेयर बोर्ड की समस्याओं को सुनकर उन्हें दूर किया जाएगा और लंबित मामलों को जल्द सुलझाया जाएगा। वे रात के समय शहर से निकलने वाले वाहनों की नो एंट्री के समय को जाचेंगे और जरूरत पड़ी तो उसको ठीक किया जाएगा।

शहर की ट्रैफिक व्यवस्था में करेंगे सुधार

शहर की ट्रैफिक व्यवस्था को लेकर वे जल्द ट्रैफिक एसएचओ सहित संबंधित विभागों के साथ बैठक करेंगे। सिस्टम को समझ कर उस व्यवस्था देखेंगे। उसके बाद उसे ठीक करने के लिए आवश्यक कदम उठाए जाएंगे। वाहन चालकों को दिक्कत न हो, ऐसी व्यवस्था की जाएगी। शहर के चौक-चौराहों पर जाकर संबंधित कर्मचारियों से बात कर वहां की दिक्कत को समझ कर कदम उठाए जाएंगे।

रामपाल काकेस करेंगे स्टडी, समर्थकों से आमजन न हो परेशान, ऐसी होगी व्यवस्था

बरवाला के सतलोक आश्रम संचालक रामपाल की अदालत में पेशी के दौरान समर्थकों को आने से रोकने और शहरवासियों को दिक्कत न हो, इसके लिए एसपी इस केस की स्टडी करेंगे। उसके बाद समर्थकों को शहर से बाहर रखा जाएगा। अभी रामपाल की पेशी के चलते शहर में समर्थक आते हैं, जिससे आम शहरवासी परेशान होते हैं।

नशा बेचने वालों के खिलाफ चलाएंगे अभियान

युवा नशे में फंस कर अपने आप को बर्बाद कर रहे हैं। ऐसे मामलों को देखकर उससे संबंधित अधिकारियों से बैठक की जाएगी। एसपी ने कहा कि युवा पीढ़ी को बचाने के लिए नशा बेचने वालों के खिलाफ विशेष अभियान चलाया जाएगा। नशे से जुड़े मामलों का वह खुद आकलन करेंगे।

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस