जागरण संवाददाता, हिसार : लघु सचिवालय में मंगलवार को जनप्रतिनिधियों व अधिकारियों की विभिन्न कार्यों पर समीक्षा बैठक हुई। जिसकी अध्यक्षता डिप्टी स्पीकर रणबीर गंगवा ने की। बैठक में राशन वितरण की बात चल ही रही थी कि इतने में शहर विधायक डा. कमल गुप्ता ने पिछली बैठक में शहर में पीले राशन कार्ड बनाने के नाम पर वसूली से जुड़ी शिकायत का स्टेटस मांगा। जो शिकायतें कुछ पीड़ितों ने उनसे की थी। ऐसे में खाद्य आपूर्ति अधिकारी ने बताया कि माल कालोनी निवासी पीड़ित आठ महिलाओं के बयान दर्ज किए तो हकीकत सामने आ गई। इसमें से छह महिलाओं ने बताया कि बजरंग नाम का व्यक्ति ने उन्हें पीले राशन कार्ड बनाने का दावा किया था। इसको लेकर वह उनसे रुपये ठग ले गया। विभागीय अधिकारी जांच ही कर रहे थे, इतने में दो महिलाओं ने बताया कि इस व्यक्ति ने उन्हें लोन दिलाने का भी झांसा दिया था। जिसमें फंसकर उनसे भी वह रुपये ले गया। डीएफएससी सुभाष सिहाग ने बताया कि मामले को लेकर आजाद नगर थाना में आरोपी के खिलाफ एफआइआर दर्ज करने के लिए शिकायत दे दी है। उन्होंने बताया कि यह व्यक्ति 2017 तक एक गांव में राशन की दुकान करता था मगर दस्तावेजों की कमी विभाग ने इसकी दुकान रद कर दी। हालांकि यह मामला न्यायालय के स्तर पर विचाराधीन है। बैठक में राज्यसभा सदस्य डा. डीपी वत्स, हिसार विधायक डा. कमल गुप्ता, हांसी विधायक विनोद भ्याणा, नगर निगम मेयर गौतम सरदाना व उपायुक्त डा. प्रियंका सोनी भी मौजूद रहे।

-----------

पेयजल व सिचाई के पानी का करें इंतजाम

हरियाणा विधानसभा के डिप्टी स्पीकर रणबीर सिंह गंगवा ने कहा कि बढ़ती गर्मी के मद्देनजर जिला के ग्रामीण व शहरी क्षेत्रों में पीने व सिचाई के पानी के साथ-साथ बिजली की कमी न रहने दी जाए। इसके अलावा सभी पात्र व्यक्तियों को डिस्ट्रेस राशन टोकन बनवाकर उन्हें राशन उपलब्ध करवाया जाएं। डिप्टी स्पीकर ने कहा कि गर्मी लगातार बढ़ती जा रही है, इसके मद्देनजर नहरों व माइनरों की टेल पर सिचाई के पानी तथा पीने के पानी की कोई कमी न रहने दी जाए। पंप स्टेशनों पर समुचित बिजली आपूर्ति सुनिश्चित करने के लिए उन्होंने दक्षिण हरियाणा बिजली वितरण निगम के अधीक्षक अभियंता को आवश्यक निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि गर्मी को देखते हुए जिला में बिजली आपूर्ति को भी बाधित न होने दिया जाए और विशेषकर कंटेनमेंट जोन में पर्याप्त बिजली आपूर्ति जरूर की जाए।

------------

पेयजल की आपूर्ति के लिए निधि से दिए टैंकरों का करें प्रयोग

ग्रामीण क्षेत्र में पेयजल आपूर्ति के संबंध में सांसद डा. डीपी वत्स ने बताया कि उन्होंने व उप मुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला ने जिला के विभिन्न गांवों में लगभग 400 पेयजल टैंकर दे रखे हैं जो जन स्वास्थ्य विभाग की संपत्ति है। जिन गांवों में पेयजल की कमी है वहां इन टैंकरों का सदुपयोग करवाया जाए। उपायुक्त डॉ. प्रियंका सोनी ने डीडीपीओ सूरजभान को टैंकर वाले सभी गांवों में लोगों को टैंकरों का लाभ मिलने और टैंकरों की स्थिति चेक करवाने के निर्देश दिए।उन्होंने कहा कि जो सरपंच इस कार्य में बाधा उत्पन्न कर रहा है उसके खिलाफ कार्रवाई की जाएगी और उससे टैंकर भी वापस लिए जाएंगे।

-----------

नियम शर्तें पूरी करने वालों को ही मिले राशन

डिप्टी स्पीकर ने कहा कि सरकार ने लॉकडाउन के मद्देनजर प्रवासी श्रमिकों व अन्य जरूरतमंद परिवारों को डिस्ट्रेस राशन टोकन उपलब्ध करवाने के लिए आत्मनिर्भर भारत योजना शुरू की है। उन्होंने कहा कि जो परिवार अभी भी टोकन से वंचित हैं लेकिन वे पात्रता की शर्तें पूरी करते हैं, उन्हें इस योजना का लाभ प्रदान किया जाए। उपायुक्त डॉ. प्रियंका सोनी ने कहा कि जिला के पात्र व्यक्ति अपने बीएलओ से मिलकर अपना नाम व अन्य विवरण उन्हें नोट करवा दें, सभी पात्र परिवारों को योजना का लाभ प्रदान किया जाएगा।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस