हिसार, जेएनएन। हरियाणा में 15 अप्रैल के बाद मौसम में बदलाव के आसार हैं। पश्चिमी विक्षोभ के आंशिक प्रभाव व राजस्थान के ऊपर बनने वाले साइक्लोनिक सर्कुलेशन के कारण राज्य में 15 अप्रैल देर रात्रि से मौसम में बदलाव होने की संभावना है। इससे राज्य में 16 व 17 अप्रैल को तथा बाद में 20 अप्रैल को बादल छाने, बीच-बीच में तेज हवा चलने की संभावना है। कहीं-कहीं बूंदाबांदी या हल्की बारिश होने की भी संभावना है।

राज्य में पिछले पांच दिनों से मौसम आमतौर पर खुश्क व गर्म रहा। दिन का तपमान 35 से 40 डिग्री सेल्सियस जो सामान्य से 2 से 4 डिग्री सेल्सियस अधिक रहा। इसके साथ ही न्यूनतम तापमान भी 15 से 19 डिग्री सेल्सियस रहा जो सामान्य के आसपास रहा। अब 14 अप्रैल से 20 अप्रैल तक हरियाणा राज्य में मौसम 15 अप्रैल तक आमतौर पर खुश्क व गर्म रहने की संभावना है। मगर इसके बाद मौसम में परिवर्तन हो सकता है।

किसान मौसम परिवर्तन को देखते हुए इन बातों का रखें ध्यान

  • गेहूं व अन्य फसलों की कटाई व कढाई करते समय बदलते मौसम का ध्यान अवश्य रखें।
  • गेहूं की कटी हुई फसल के बंडल अच्छी प्रकार से बांधे ताकि तेज हवाएं चलने से उड़ न सके।
  • गेहूं, सरसों व अन्य फसलों को बेचने के लिए मंडी ले जाते समय तिरपाल आदि का प्रबंध अपने साथ अवश्य रखें।
  • तेज हवाएं चलने व बारिश की संभावना को देखते हुए गेहुं की तूड़ी-भूसा आदि को अवश्य ढके या सुरक्षित स्थानों पर रखें।
  • नरमा कपास की बिजाई करते समय बदलते मौसम को अवश्य ध्यान रखे।खेतों की नमी को सरंक्षित करे व बिजाई रोक लें।

हिसार की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

 

Edited By: Umesh Kdhyani