जागरण संवाददाता, रोहतक : आसमान से गिरे, खजूर पर अटके की कहावत रोहतक में एक शख्‍स के लिए पीड़ादायक साबित हुई है। एक बार ठगी होने पर जब मदद के लिए दूसरी जगह फोन मिलाया तो वहां भी ठग ही मिल गए। न्यू अनाज मंडी के रहने वाले व्यक्ति के साथ बैंक कर्मचारी बनकर ठगी कर ली गई है। हैरानी की बात यह है कि पहली बार ठगी के बाद पीड़ित ने कस्टमर केयर नंबर पर जानकारी दी, लेकिन पता चला कि वहां पर भी ठग से बात हो रही है दोबारा खाते से रकम उड़ा दी गई। इसके बाद पीड़ित ने पुलिस में शिकायत दर्ज कराई।

पुलिस को दी गई शिकायत में न्यू अनाज मंडी निवासी शुभम गुप्ता ने बताया कि उसका खाता आइसीआइसीआइ बैंक में है। उसके मोबाइल पर अज्ञात नंबर से काल आई। फोन करने वाली महिला ने खुद को बैंक की कर्मचारी बताया। जिसने बताया कि आपके क्रेडिट कार्ड पर कोई प्लान एक्टिव है। उसकी वैरिफिकेशन के लिए कार्ड के नंबर की जानकारी देनी होगी। कार्ड के आठ अंकों की जानकारी देने के बाद मोबाइल पर मैसेज आया। महिला ने झांसा देकर उसके क्रेडिट कार्ड से करीब 90 हजार रुपये निकाल लिए।

कहा कि यह रकम 24 घंटे के अंदर वापस हो जाएगी। इसके बाद खाते से भी रुपये कटने शुरू हो गए। तब जाकर पीड़ित को ठगी का पता चला। ठगी के बाद पीड़ित ने बैंक का कस्टमर केयर नंबर मिलाया। फोन रिसीव करने वाले ने उसकी समस्या पूछी और कहा कि वह दूसरे नंबर से काल करते हैं। कुछ देर बाद दूसरे नंबर से काल की। कहा कि आपका जो भी रुपया कटा है वह वापस हो जाएगा।

इसके लिए मोबाइल पर एेनी डेस्क एप्लीकेशन को डाउनलोड करना होगा। फोन करने वाले ने डेबिट कार्ड की फोटो मंगा ली और फिर से खाते से 9189 रुपये कट गए। पीड़ित को पता चला कि उसके साथ दोबारा से ठगी हो गई। पीड़ित की शिकायत पर सिटी थाना पुलिस ने मामला दर्ज कर लिया है। गौरतलब है कि ठगी के मामले लगातार बढ़ते जा रहे हैं।

Edited By: Manoj Kumar