सिरसा, जेएनएन। ऑनलाइन ठगी का खेल नहीं रुक रहा है। सिरसा के कालांवाली क्षेत्र के गांव पक्कां निवासी महिला सिमरजीत कौर ने पुलिस में शिकायत दी कि अज्ञात व्यक्ति ने उसके बैंक खाते में से धोखे से 64,772 रुपये की शॉपिंग कर ली। कालांवाली पुलिस ने अभियोग दर्ज कर जांच शुरू कर दी है। पुलिस को दी शिकायत में सिमरजीत कौर ने शिकायत दी कि उसका कालांवाली स्थित एक्सिस बैंक में खाता है। करीब सात महीने पहले उसके पास कॉल गुरप्रीत कौर नामक महिला की कॉल आई कि वह एक्सिस बैंक से बोल रही है और आप क्रेडिट कार्ड बनवा लो।

उसका बनाने का कोई खर्चा नहीं। सिमरजीत कौर ने कहा कि उसने क्रेडिट कार्ड बनवाने से मना कर दिया परंतु उसने फिर भी क्रेडिट कार्ड बना दिया। कुछ महीनों के बाद उक्त युवती का दोबारा फोन आया और उससे क्रेडिट कार्ड का नंबर पूछा। उसके बाद 11 मार्च 2020 को अज्ञात व्यक्ति ने फोन कर उससे ओटीपी पूछा और कुछ दिनों के बाद बैंक से फोन आया कि आपने शॉपिंग की है। बाद मे बैंक ने कहा कि 64,772 रुपये भरो, तब हमें पता चला कि हमारे बैंक खाते में से 64,772 रुपये कट गये। अज्ञात व्यक्ति ने ओटीपी पूछकर उसके खाते से धोखाधड़ी करके शॉपिंग की। कालांवाली पुलिस ने मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है।

मुकदमा दर्ज किए जाने से था परेशान, खेत में जाकर निगला कीटनाशक

सिरसा : डिंग थाना पुलिस ने गांव दड़बी में मानसिक रूप से परेशान एक व्यक्ति ने अपने खेत में जाकर जहरीले पदार्थ का सेवन कर लिया, जिससे उसकी मौत हो गई। इस मामले में मृतक के बेटे पंकज की शिकायत पर डिंग पुलिस ने एक ही परिवार के 11 लोगों के खिलाफ मामला दर्ज किया है। पुलिस को दी शिकायत में पंकज ने बताया कि सोमवार सुबह उसके पिता हंसराज खेत में काम करने के लिए गए थे। उस समय काफी परेशान लग रहे थे। सुबह साढ़े सात बजे उसके मामा सतीश का फोन आया कि उसके पिता की तबीयत खराब है। इसके बाद जब वह मौके पर पहुंचा तो उसके पिता ने उसे बताया कि उसने सल्फास की गोली खा ली है।

पंकज ने बताया कि उसके पिता ने उससे कहा कि यह गोली उसने गांव दड़बी निवासी फूलाराम, मोहनराम, वीना, रामेश्वर, अनिल, कौशल्या, फोजा सिंह, राजकुमार, लालचंद, हंसराज, हरभगवान निवासी दड़बी से तंग व परेशान होकर खाई है। इसके बाद वह अपने पिता को लेकर शहर के निजी अस्पताल में पहुंचा, जहां चिकित्सक ने उसे मृत घोषित कर दिया। पंकज ने आरोप लगाए कि फूलाराम की बेटी ने उसके पिता के खिलाफ साल 2016 में मामला दर्ज करवाया था। इस मामले में डिंग थाना प्रभारी जितेंद्र कुमार ने बताया कि पुलिस ने मृतक के बेटे पंकज के बयान पर आरोपितों के खिलाफ अभियोग दर्ज कर जांच शुरू कर दी है। शव का पोस्टमार्टम कर परिजनों को सौंप दिया है।

Edited By: Manoj Kumar