जागरण संवाददाता, हिसार। हिसार में अक्टूबर महीने में कोरोना के मामलों में राहत है, लेकिन अब स्वास्थ्य अधिकारियों की चिंता डेंगू ने बढ़ा दी है। अक्टूबर महीने में बीते 18 दिनों में जहां कोरोना का एक भी मामला नहीं मिला। वही इन 18 दिनों में डेंगू के 70 मामले हिसार में मिल चुके हैं। इनमें लगातार बढ़ोतरी भी होती जा रही हैं जो विभागीय अधिकारियों के लिए चिंता का विषय बनी हुई है। पंचकूला मुख्यालय से हिसार तक सभी जगह डेंगू से निपटने के लिए तैयारी की जा रही है।

मुख्यालय से उच्च अधिकारी जिला स्वास्थ्य अधिकारियों को डेंगू की रोकथाम के लिए वीसी के जरिए आदेश दे रहे हैं, लेकिन इसके बावजूद डेंगू के मामले लगातार बढ़ रहे हैं। यह स्वास्थ्य विभाग के साथ प्रशासनिक अधिकारियो के लिए भी चिंता की बात है। हालांकि डेंगू की रोकथाम के लिए विभाग की ओर से एंटी लारवा अभियान और नगर निगम की ओर से फागिंग की जा रही है, इसके बावजूद बारिश के कारण मच्छर पनपने से डेंगू के मामले लगातार बढ़ रहे हैं।

-----इधर कोरोना के मामलों में सोमवार को राहत रही। सोमवार को भी जिले में कोरोना का कोई नया मामला नहीं मिला। जिला सर्विलांस अधिकारी एवं आईडीएसपी इंचार्ज डा. सुभाष खतरेजा ने बताया कि सोमवार को जिले में कोरोना वायरस संक्रमण का कोई नया मामला सामने नहीं मिला। जिले में एक्टिव केसों की संख्या एक तथा रिकवरी रेट 97.89 फीसद है।

उन्होंने बताया कि जिले में अब तक सात लाख 46 हजार 976 लोगों की जांच की जा चुकी है। जिसमें संक्रमण के कुल 53 हजार 993 मामले सामने आ चुके हैं। अब तक कुल 52 हजार 852 लोग कोरोना से रिकवर हो चुके हैं। जिले में कोरोना से अब तक कुल 1140 लोगों की मौत हुई है। कोरोना की पिछले वर्ष पहली लहर में 327 और इस वर्ष की दूसरी लहर में 813 लोगों की मौत हो चुकी हुई है। पहली लहर में संक्रमण के 17 हजार 147 जबकि दूसरी लहर में अब तक 36 हजार 846 मामले दर्ज किए गए हैं।

Edited By: Manoj Kumar