हिसार, जेएनएन। उच्चतर शिक्षा विभाग ने देर शाम को ऑनलाइन एडमिशन को लेकर अपने हाथ खड़े कर दिए। कालेजों को ई-मेल भेजकर कहा है कि अब कालेज खाली सीटों के हिसाब से स्वयं मेरिट लिस्ट बनाएं और विद्यार्थियों को दाखिला दें। साथ ही यह भी बताया है कि विभाग ने सभी विद्यार्थियों को एसएमएस भेजकर कहा है कि जो विद्यार्थी जिस कालेज में दाखिला लेना चाहता है।

वह उस कालेज में जाकर सीटों के स्टेटस और फिजिकल काउंसिलिंग के बारे में जानकारी ले ले। कालेजों में फिजिकल काउंसिलिंग के आधार पर ही खाली सीटों पर दाखिले होंगे। अब प्रमुख कालेजों में हंगामा होना तय है, क्योंकि प्रमुख कालेजों के कई कोर्सों की सीटें दूसरी मेरिट लिस्ट के बाद फुल हो जाएंगी।

सीटों से अधिक दाखिले हो गए

बुधवार शाम होते-होते विभाग का एक और कारनामा सामने आ गया। विभाग ने कई कालेजों में निर्धारित सीटों से अधिक दाखिले कर दिए हैं। गवर्नमेंट पीजी कालेज हिसार के एडमिशन के नोडल ऑफिसर डा. यशवंत सिंह के अनुसार उनके कालेज में डिफेंस में 100 सीटें हैं, जबकि दाखिले 180 हो गए हैं।

यही हाल कई अन्य विषयों के हैं। वहीं, गवर्नमेंट कालेज बरवाला में बीए में निर्धारित सीटों से 40 विद्यार्थियों के अधिक दाखिले कर दिए गए। खास बात यह है कि हिसार के गुरु जंभेश्वर विश्वविद्यालय से संबद्ध कालेजों में नियमानुसार हर सीट पर अधिक दाखिला करने पर एक लाख रुपये जुर्माना देना होता है। अब यह जुर्माना गुजवि को कौन देगा।

Posted By: manoj kumar