सिरसा, जेएनएन। मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने कहा कि प्रदेश सरकार कोरोना महामारी के खिलाफ पूरी गंभीरता के साथ लड़ रही है। राज्य में ऑक्सीजन की कोई कमी नहीं है। कोविड-19 मरीजों के इलाज में कोई भी कमी नहीं रहने दी जाएगी। कोरोना की इस लड़ाई को हम सबको मिलकर लडऩा है और सभी के सहयोग से कोरोना पर अवश्य ही हमारी जीत होगी। उन्होंने कहा कि बढते कोरोना संक्रमण की कड़ी को तोडऩे के उद्देश्य से पूरे प्रदेश में अब 9 मई तक लॉकडाउन जारी रहेगा।

मुख्यमंत्री रविवार को नागरिक अस्पताल स्थित वैक्सीनेशन सेंटर में अधिकारियों के साथ जिला में कोरोना की स्थिति व प्रबंधों की समीक्षा बैठक उपरांत पत्रकारों को संबोधित कर रहे थे। इससे पहले उन्होंने अधिकारियों से जिला में कोरोना की स्थिति व संक्रमण से निपटने तथा इसके फैलाव को रोकने के संबंध में किए गए प्रबंधों व व्यवस्थाओं की जानकारी ली और इस संबंध में आवश्यक दिशा-निर्देश भी दिए। बैठक में बिजली मंत्री रणजीत सिंह, उपायुक्त प्रदीप कुमार, पुलिस अधीक्षक भूपेंद्र सिंह, नगर आयुक्त संगीत तेतरवाल, अतिरिक्त उपायुक्त उत्तम सिंह सहित स्वास्थ्य विभाग के संबंधित अधिकारी उपस्थित थे।

मुख्यमंत्री ने कहा कि पिछले सवा साल से चली आ रही कोरोना संक्रमण परिस्थिति के अनुसार हमने अपने जीवन को ढाला है। परिस्थितियों के अनुसार ही स्वयं को आगे बढाएं। उन्होंने प्रदेशवासियों से अपील करते हुए कहा कि भय का वातावरण न बनाएं बल्कि इस कोरोना की लड़ाई में व्यक्ति हो, विपक्ष हो, जनता हो या मीडिया हो सभी को चाहिए कि वे सकारात्मक भूमिका निभाएं।

उन्होंने कहा कि जान है तो जहान है और इस सोच के साथ हमें मिलकर कोरोना के खिलाफ लडऩा है। उन्होंने कहा कि प्रदेश में ऑक्सीजन की कोई कमी नहीं है। स्वास्थ्य सुविधाओं के अभाव में कोरोना मरीजों के इलाज में किसी प्रकार की कमी नहीं रहने दी जाएगी। प्रदेश में कोविड-19 संबंधी सभी आवश्यक स्वास्थ्य सुविधाएं उपलब्ध हैं।

पत्रकारों द्वारा जिला में कोरोना स्थिति व प्रबंधों की समीक्षा बैठक बारे पूछे गए सवाल का जवाब देते हुए मुख्यमंंत्री ने कहा कि अधिकारियों को संभावित कोरोना स्थिति अनुसार बैड सहित अन्य सुविधाओं की अतिरिक्त व्यवस्था करने के निर्देश दिए हैंं। उन्होंने कहा कि प्रदेश में ऑक्सीजन की कोई कमी नहीं है और अब सिरसा का भी ऑक्सीजन कोटा बढाया गया है, ताकि कोविड-19 मरीजों के इलाज में कोई कमी न रहे। प्रदेश सरकार द्वारा संक्रमण फैलाव को रोकने के उद्देश्य से हर जिले में जाकर कोरोना प्रबंधों की समीक्षा की जा रही है। इसके साथ-साथ जिला स्तर पर गठित टीम के प्रत्येक सदस्य से बातचीत की जा रही है और जहां कहीं भी कमियां है उसको ठीक किया जा रहा है।

मुख्यमंत्री ने आमजन से अपील करते हुए कहा कि कोरोना महामारी से हमें स्वयं को भी बचाना है और दूसरों को भी सुरक्षित रखना है। इस दौरान मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने कोरोना को लेकर जिला अध्यक्ष आदित्य देवीलाल, पूर्व चेयरमैन जगदीश चौपड़ा, गोबिंद कांडा, नगर परिषद चेयरमैन रीना सेठी, अमन चौपड़ा, प्रदीप रातुसरिया, डा. वेद बैनीवाल के साथ भी बैठक की।

सिरसा में मुख्यमंत्री के दौरे का विरोध करने पहुंचे किसानों को काबू करती पुलिस जवान

विरोध प्रदर्शन करने पहुंचे किसान, हल्का बल प्रयोग कर किया काबू
मुख्यमंत्री के दौरे का कृषि कानूनाें का विरोध कर रहे किसान संगठनों के प्रतिनिधियों ने विरोध किया। बरनाला रोड पर पक्का मोर्चा के किसानों ने नारेबाजी की, जिसके पश्चात पुलिस ने उन्हें हिरासत में ले लिया। उधर डबवाली रोड पर वायुसेना केंद्र के निकट भी विरोध जताने पहुंचे कुछ किसान नेताओं को पुलिस ने पकड़ा। वहीं नागरिक अस्पताल के समीप करीब 20-25 किसान हाथों में काले झँडे लेकर विरोध जताने पहुंचे। जहां पुलिस ने हल्के बल का प्रयोग कर किसानों को काबू कर लिया।