जागरण संवाददाता, हिसार। हिसार में ग्रामीण और दूर-दराज के क्षेत्रों में भी अब शहर की मुख्य लेबोरेट्री में मिलने वाले बड़े टेस्ट की सुविधा मिल सकेगी। शहर की सभी निजी और सरकारी लैब से जुड़े पैथोलाजिस्ट लेबोरेट्री मोबाइल वैन से जुड़ने जा रहे है। शुक्रवार को इस मोबाइल वैन का उद्घाटन किया जाएगा। इस दौरान आइएमए प्रधान डा. जेपीएएस नलवा सहित अन्य लोग उपस्थित रहेंगे। आइएमए प्रधान डा. जेपीएस नलवा ने बताया कि गुजरात की एक कंपनी ने यह मोबाइल लैबोरेट्री वैन लान्च की है। इस मोबाइल वैन में मुख्यत: सभी बीमारियों के टेस्ट की सुविधा इस लैबोरेट्री में उपलब्ध करवाई जाएगी। यह मोबाइल वैन पहली बार देश में हिसार से लान्च की जा रही है। जिन गांवों में लैब की सुविधा उपलब्ध नहीं है, उन गांवों में इसकी सेवाएं दी जा सकेंगी। हिसार के सभी सरकारी और निजी अस्पतालों के पैथालोजिस्ट इससे जुड़े है।

मोबाइल वैन में इन बीमारियों के टेस्ट की मिलेगी सुविधा

मोबाइल वैन में पूरी लेबोरेट्री की सुविधा उपलब्ध है। इसमें सीआरपी इंफेक्शन, सी रियेक्टिव प्रोटीन, सीबीसी, हार्ट, सोडियम-पोटेशियम, क्लोराइड के लिए टेस्ट, जिगर, लीवर, किडनी, ब्लड, बुखार, डेंगू, मलेरिया, टाइफाइड आदि टेस्टों की सुविधा उपलब्ध है। हालांकि कोरोना के टेस्ट की अनुमति मोबाइल वैन को नहीं मिली है। मोबाइल वैन में हार्ट मरीजों की, खून न जमने की बीमारियों, डी-डाइमर कोरोना में खून न जमना, डेंगू में खून न जमना, बुुखार में खून न जमने जैसे टेस्ट किए जाते है। इन टेस्टों के लिए सीबीसी एनालाइजर, हार्ट से संबंधी टेस्ट की मशीन, बायोकेमिस्ट्री एनालाइजर, हार्मोन एनालाइजर, इलेक्ट्रोलाइट एनालाइजर से खून की कमी और खून के तत्वों की कमी के टेस्ट किया जा सकते है।

मिसपाह मशीन जो सीआरपी, पिछले तीन महीने की डायबिटीज को एनलाइज कर सकती है। पीटीआई, पीटी टीके जो बच्चों और बड़ों के टीके लगने पर खून जमने का समय निर्धारित करती है आदि बातों की जानकारी भी मिल सकती है। कैंसर की जांच के लिए कैंसर मार्कर मशीन की सुविधा उपलब्ध है। हार्ट अटैक की स्थिति काे भी जाना जा सकता है कि मरीज को हार्ट अटैक हुआ था यह कितना गंभीर था। पुराने हार्ट अटैक को देखने के लिए अलग-अलग एंजाइम की जांच की मशीन की सुविधा भी दी गई है। एलर्जी की जांच के लिए मशीनें उपलब्ध है एलर्जी एनालाइजर की मशीन उपलब्ध है।

सभी सरकारी और प्राइवेट

जिले की निजी लैब में नलवा लैब, कालड़ा, लैब, मंगलम लैब, कोणार्क लैब, सिंगला लैब, अंजलि लैब, लाल पैथ लैब, सुखदा अस्पताल की लैब, सेवक सभा अस्पताल की लैब, सिविल अस्पताल की लैब, सिविल अस्पताल के सामने स्थित मंगलम लैब में पैथोलाजिस्ट उपलब्ध है जो इस मोबाइल वैन से जुड़ेंगे। सभी निजी लैब की तरफ से इस वैन को जोड़कर चलाने पर विचार विमर्श किया जाएगा। आइएमए प्रधान का कहना है राज्य के सभी सरकारी और निजी अस्पतालों में ऐसी मोबाइल लैब का प्रावधान किया जाना चाहिए। जो घर-घर जाकर लेेबोरेट्री की सुविधा दें सकेें।

Edited By: Rajesh Kumar