हिसार/बरवाला, जेएनएन। किसान आंदोलन को छह माह से अधिक हो गए हैं। भाजपा और जजपा नेताओं का लगातार विरोध जारी है। सोमवार को बाडोपट्टी गांव में अस्थायी बिजली घर का किसानों ने तिरंगा लगाकर खुद ही उद्घाटन कर दिया। इसका उद्घाटन करने विधायक जोगीराम सिहाग को आना था।

बाडोपट्टी टोल कमेटी को सूचना मिली कि बाडोपट्टी गांव में विधायक जोगीराम सिहाग अस्थायी बिजली घर का उद्घाटन करने के लिए आने वाले हैं। टोल कमेटी सूचना मिलते ही तुरंत उद्घाटन स्थल पर पहुंच गई। 3-4 घंटे इंतजार के बाद भी विधायक जोगी राम सिहाग नहीं आए। इसके बाद किसानों ने तिरंगा लगाकर खुद ही उद्घाटन कर दिया। बाडोपट्टी को कुछ दिन पूर्व ही बिजली के सब डिवीजन का दर्जा मिला है। इसलिए वहां पर अस्थायी कार्यालय खोला गया है।

15 को सैकड़ों लोग जाएंगे टीकरी बॉर्डर

बरवाला के बाडोपट्टी टोल प्लाजा पर संयुक्त किसान मोर्चा की तरफ से चल रहे अनिश्चितकालीन धरने प्रदर्शन की सोमवार को अध्यक्षता  बेद सिंह भ्याण और संचालन संतोष बिचपड़ी ने किया। धरने को अखिल भारतीय किसान सभा के जिला के नेता दयानंद ढूकिया ने सम्बोधित किया। उन्होंने कहा कि 15 जून को उकलाना- बरवाला से सैकड़ों लोग दिल्ली टीकरी बॉर्डर के लिए जाएंगे। उन्होंने कहा कि सरकार आंदोलन का ध्यान भटकाने के लिए गांव व शहरों के स्तर पर छोटे- छोटे कार्यों का उद्घाटन करने के बहाने बार बार अपने विधायकों व मंत्रियों को बुला रही है। किसान सभा ने सभी किसान मजदूरों से आह्वान किया कि वे ज्यादा से ज्यादा संख्या में दिल्ली आंदोलन में भाग लें और आंदोलन को कमजोर न पड़ने दें।

डिप्टी स्पीकर को भी दिखाए काले झंडे

टोल प्लाजा संघर्ष समिति के प्रवक्ता ने बताया कि करीब 2:30 बजे डिप्टी स्पीकर रणबीर सिंह गंगवा बाडोपट्टी टोल से निकल रहें थे। उन्हें भी किसानों ने काले झंडे दिखाए और नारे लगाए। इस दौरान राजू भगत सरसोद, सरदानन्द राजली, दयानंद ढूकिया, अंकित बालक, नरेश सरसौद, शुध्धन जेवरा, ज्ञानी शर्मा, महासिंह राजली, प्रेमा चहल, कुलदीप भ्याण, ऋषिकेश राजली, रोहतास राजली, विक्रम, रजत, सरोज, चन्द्र, भूरो,  मायावती, शिला, प्रकाशी, सुदेश, अंग्रेजो, सन्तोष, मुकेश, रामरती, बाला, गुड्डी, ईश्वर वर्मा, राजेश नंबरदार आदि सैकड़ों की संख्या में लोग उपस्थित रहे।

हिसार की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

Edited By: Umesh Kdhyani