जागरण संवाददाता, हिसार। हिसार में शुक्रवार को कोरोना का कोई नया मामला नहीं मिला। यह जुलाई में सातवीं बार है, जब कोरोना का कोई नया मामला नहीं मिला। जिले में 30 जून तक 53 हजार 910 कोरोना के मामले मिले थे। वहीं 52 हजार 732 स्वस्थ हुए थे। जबकि जुलाई के 30 दिनों में महज 62 कोरोना के मामले मिले है। इस दौरान 97 स्वस्थ हुए है।

सीएमओ डॉ. रत्ना भारती ने बताया कि जिले में शुक्रवार को भी कोरोना के मामलों में राहत रही। वायरस संक्रमण लगातार कम हुआ है। इससे अब जिले में छह ही एक्टिव पॉजिटिव केस हैं। अब तक छह लाख 59 हजार 461 लोगों की टेस्टिंग की जा चुकी है, जिसमें संक्रमण के कुल 53 हजार 972 मामले सामने आ चुके हैं। अब तक कुल 52 हजार 829 लोग कोरोना से रिकवर हो चुके है। सीएमओ ने बताया कि जिले का रिकवरी रेट 97.88 फीसद है। कोरोना से अब तक कुल 1137 लोगों की मौत हुई है। कोरोना की पिछले वर्ष की पहली लहर में 327 और इस वर्ष की दूसरी लहर में 810 लोगों की मौत हुई है। पहली लहर में संक्रमण के 17 हजार 147 जबकि दूसरी लहर में अब तक 36 हजार 825 मामले आए हैं।

जुलाई में कब-कब रहे शून्य केस

8 जुलाई - 0

10 जुलाई - 0

18 जुलाई - 0

24 जुलाई - 0

26 जुलाई - 0

28 जुलाई - 0

30 जुलाई - 0

वैक्सीनेशन का लेकर लगातार आ रही समस्या

इधर जिले में वैक्सीन लगवाने के लिए लोगों की भीड़ बढ़ती जा रही है। क्योंकि स्कूल, कालेज, विश्वविद्यालयों सहित सरकारी और निजी संस्थानों में नौकरी कर रहे लोगों से किसी ना किसी काम के लिए वैक्सीन लगवाने के प्रमाण पत्र मांगे जा रहे है। ऐसे में जिले में वैक्सीन लगवाने के लिए भीड़ बढ़ती जा रही है। लेकिन वैक्सीन लगवाने वाले लोगों को कभी वैक्सीन लगवाने के लिए स्लाट बुक करने में समस्या आ रही है तो कभी स्लाट बुकिंग के बावजूद भीड़ के कारण वैक्सीन नहीं लग पाती तो कभी-कभी वैक्सीन ही विभाग के पास नहीं पहुंची पाती। जिसके कारण लोगों को वैक्सीन लगवाने के लिए परेशानी उठानी पड़ रही है।

बारिश के बावजूद लोग पहुंच रहे, नहीं लगती वैक्सीन

बारिश व जलभराव के बावजूद लोग वैक्सीन लगवाने पहुंच रहे है। लेकिन स्वास्थ्य केंद्रो में पहुंचकर लोगों को वैक्सीन नहीं लग पा रही। ऐसे में बिना वैक्सीन लगवाए लौटना पड़ जाता है। शुक्रवार को भी सिविल अस्पताल में कई लोग वैक्सीन लगवाने पहुंचे, लेकिन उनका रजिस्ट्रेशन ही नहीं हो पाया। इससे पहले जिले में एक सप्ताह तक वैक्सीन की किल्लत रही थी। जिसके चलते वैक्सीनेशन नहीं हो पा रहा था।

हिसार की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

 

Edited By: Umesh Kdhyani