संवाद सहयोगी, उकलाना : सोमवार देर शाम उकलाना भूना रोड पर जा रहे एक तेल का टैंकर गांव शंकरपुरा के पास सड़क किनारे पलट गया। टैंकर के पलटने की जानकारी जैसे ही ग्रामीणों को लगी तो काफी संख्या में ग्रामीण टैंकर के ड्राइवर को बचाने के लिए उस ओर दौड़ पड़े। ग्रामीणों की ने किसी तरह से ड्राइवर को टैंकर के अंदर से बाहर निकाला। टैंकर पलटने से ड्राइवर को कुछ चोट आई ओर ड्राइवर को इलाज के लिए अस्पताल ले जाया गया। इसी दौरान तेल के टैंकर में आग लग गई और कुछ ही पलों में आग विकराल रूप धारण कर गई और करीबन 70 फीट ऊंची लपटें दिखाई देने लगी। इससे बचाव कार्य में जुटे ग्रामीण इसमें झुलस गए। आग की लपटें बढ़ती देख पुलिस ने एहतियात के तौर पर पास की कालोनी को खाली करवा दिया और भूना मार्ग बंद कर दिया। टैंकर गांव शंकरपुरा से कुछ ही फीट की दूरी पर पलटा था। घटना के समय पास में मौजूद गांव शंकरपुरा निवासी विशाल, अनिल, अजमेर, मदन, दीपक, अजय व सचिन भी आग की लपटों में आ गए और गंभीर रूप से झुलस गए। ग्रामीणों ने झुलसी हुई गंभीर हालत में उन्हें वहां से उठाया और इलाज के लिए हिसार के अस्पताल में ले जाया गया। ग्रामीणों को डर था कि कहीं टैंकर में लगी आग के कारण ब्लास्ट न हो जाए और उसे गांव में नुकसान न हो जाए।

पुलिस ने बरवाला, भूना, टोहाना, नरवाना से दमकल गाड़ियां मंगाई गई है। सूचना मिलते ही उपरोक्त शहरों से चार दमकल विभाग की गाड़ियां मौके पर पहुंची और आग को काबू करने में जुट गई। इस दौरान उकलाना पुलिस ने उकलाना भूना रोड पर दोनों तरफ नाकेबंदी कर दी और रोड पर वाहनों की आवाजाही पूरी तरह से बंद कर दी गई ताकि इस दौरान किसी प्रकार की कोई अनहोनी घटना न घटने पाए। काफी जद्दोजहद के बाद दमकल विभाग की गाड़ियों की सहायता से आग पर काबू पाया गया। लेकिन तब तक तेल का टैंकर पूरी तरह से जल चुका था। लेकिन ब्लास्ट होने से बचा लिया गया। जिससे ग्रामीणों ने राहत की सांस ली।

Posted By: Jagran