जागरण संवाददाता, सिरसा। सिरसा रोड़ी क्षेत्र के गांव सुरतिया में किसानों ने मंगलवार सुबह खाद विक्रेता की दुकान के आगे एकत्रित होकर धरना दिया। प्रदर्शनकारी ग्रामीणों का आरोप था कि दुकानदार नकली पोटाश की बिक्री कर रहा है। सुबह सवेरे ही बड़ी संख्या में किसान एकत्रित होना शुरू हो गए। किसानों ने खाद विक्रेता के खिलाफ कार्रवाई की मांग को लेकर नारेबाजी की। 

दुकान में बेच रहा था नकली पोटाश 

जानकारी मुताबिक गांव सुरतिया में स्थित खाद विक्रेता की दुकान के आगे किसानों ने एकत्रित होकर धरना शुरू कर दिया। किसान नेताओं सुखपाल सिंह, गुरदीप सिंह, भुंडा सिंह खलासा, मेजर नंबरदार, प्रगट सिंह इत्यादि ने बताया कि बीते दिवस गांव के किसान वकील सिंह ने दुकान से पोटाश खरीदा था। जब वह उसे सरसों की फसल में डालने लगा तो उसे शक हुआ, जब उसने पोटाश की जांच की तो वह नकली था। इसके बाद वह दुकानदार के पास पहुंचा तो दुकानदार ने पोटाश का बैग वापस लेने से इंकार कर दिया। जिसके बाद किसान ने इस बारे में किसान यूनियन से जुड़े लोगों को सूचना दी।

किसान कार्रवाई करवाने पर अड़ा रहा

उधर मामला किसान यूनियन में पहुंचता देख खाद विक्रेता ने किसान से समझौता करना चाहा परंतु किसान कार्रवाई करवाने पर अड़ा रहा। इस मामले में रोड़ी थाना पुलिस व कृषि विभाग के अधिकारियों को भी सूचना दी गई है। प्रदर्शनकारी किसानों ने बताया कि दुकानदार ने रात के समय ही दुकान में रखे खाद के बैग उठा लिये और सुबह भी बड़ी मात्रा में खाद को इधर उधर किया है। उन्होंने कहा कि विभागीय अधिकारियों को सूचना दिये जाने के बावजूद कोई अधिकारी नहीं आया है। उन्होंने कहा कि जब तक इस मामले की जांच नहीं हो जाती उनका धरना जारी रहेगा। किसानों का आरोप है कि खाद विक्रेता के पास रोड़ी का लाइसेंस है जबकि उसने दुकान गांव सुरतिया में कर रखी है। किसानों का आरोप है कि विभागीय अधिकारियों की मिलीभगत से नकली खाद व कीटनाशक का धंधा किया जा रहा है, जिससे किसानों को चंपत लग रही है।

Edited By: Rajesh Kumar