जागरण संवाददाता, भिवानी। भिवानी के गांव केहरपुरा के खेतों में मिट्टी डालने का काम कर रहे जेसीबी चालक व मालिक के साथ आठ-दस व्यक्तियों ने मारपीट की। जेसीबी व स्कोरपियो गाड़ी के शीशे तोड़ डाले। उसके बाद वहां से फरार हो गए।

बाद में गांव पात्थरवाली निवासी रोहतास के पास फोन आया कि मैं तेजा बिलावलिया बोल रहा हूं तु मुझे नही जानता मैं कौन हूं, यदि केहरपुरा गांव में काम करना हैं तो हमें दो लाख रुपये भेज देना नहीं तो दस किलोमीटर के एरिया में कही भी दिखाई दिए तो जान से मार देंगे। पुलिस ने मामला दर्ज कर लिया है। पुलिस द्वारा आरोपितों की तलाश की जा रही हैं। 

मिट्टी डालने का काम कर रहा है

गांव टिटाणी निवासी राजेश ने पुलिस को दी शिकायत में बताया कि केहरपुरा के खेतों में मिट्टी डालने का काम कर रहा है। उसने बताया कि उसने अपनी जेसीबी मिट्टी डालने के लिए वहां लगाई हुई है। शनिवार रात को गांव पात्थरवाली निवासी रोहतास के पेट्रोल पंप पर बैठा था। इसी दौरान जेसीबी आपरेटर शाहीद का फोन आया कि कैंपर गाड़ी, स्विफ्ट गाड़ी में कुछ लड़के आए हुए है। उनके पास लाठी डंडे है वहां खड़े एक ट्रक में तोड़ फोड़ कर रहे है और हमें भी गालियां दे रहे है। रोहतास को लेकर खेतों में पहुंचे तो वहां पर एक कैंपर गाड़ी व एक मोटरसाइकिल और पहुंची। जिसमें सात-आठ लड़के थे। वह सब मारपीट करने लगे और जान से मारने की धमकी दी। वहां खड़ी दोनों गाड़ियों को तोड़ डाला।

गाड़ियों से भी की तोड़फोड़

जेसीबी आपरेटर शाहीद व हेल्पर  नसीब को पीट-पीट कर घायल कर दिया। इसके बाद वह तीन गाड़ियों को बुरी तरह से तोड़ कर वहां से फरार हो गए। बाद में रोहतास के फोन पर फोन आया  मैं तेजा बिलावलिया बोल रहा हूं तू मुझे नहीं जानता मैं कौन हूं, यदि केहरपुरा गांव में काम करना हैं तो हमें दो लाख रुपये भेज देना नहीं तो दस किलोमीटर के एरिया में कही भी दिखाई दिए तो जान से मार देगें। इस धमकी के बाद उनकी जान को खतरा बना हुआ है। दोनों घायलों को सामान्य अस्पताल में दाखिल करवाया गया। जुई कलां थाना पुलिस ने राजेश के बयान पर मामला दर्ज कर लिया है। पुलिस ने बदमाशों की तलाश शुरू कर दी है। 

Edited By: Rajesh Kumar