जागरण संवाददाता, हिसार : हिसार में भारी बारिश हुई तो सीवरेज और ड्रेनेज व्यवस्था बेपटरी होने के कारण शहर के कई स्थानों पर 24 घंटें बाद भी जगह जगह जलभराव रहा। कई जगह तो सड़क पर फैले कीचड़ के कारण जनजीवन अस्त व्यस्त हो गया। सर्वाधिक समस्या लोगों को उन क्षेत्रों में आई जहां बरसात से चंद दिन पहले ही विकास कार्यों के नाम पर सड़क तोड़ी गई। वहां तो कीचड़ इस कदर था कि लोगों को आवाजाही में खासी परेशानी झेलनी पड़ी।

-------------

इन क्षेत्रों में सड़क पर जलभराव भी और कीचड़ में फैला रहा

- सत्य नगर : दो दिन पहले ही सत्यनगर में पेयजल लाइन बिछाने का कार्य शुरु किया गया। एक तो कुछ समय पहले बनी सड़क को तोड़ा गया। यानी सड़क निर्माण के दौरान जनस्वास्थ्य विभाग से शायद एनओसी ही नहीं ली। सड़क बनने के बाद अफसरों को पेयजल लाइन याद आ गई। ऐसे में मौजूदा समय में सड़क खोदकर छोड़ दी है। बरसात में सड़क की मिट्टी सड़क पर फैल गई है। जिसके कारण दुपहिया वाहन से लेकर पैदल चलने में भी लोगों को काफी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है।

-------------

विधायक आवास के पास सड़क पर कई दिनों से जलभराव

स्थानीय विधायक डाक्टर कमल गुप्ता के घर से चंद कदमों की दूरी पर बालसमंद रोड से घोड़ाफार्म रोड को जोड़ने वाले मार्ग पर इन दिनों पानी निकासी ही नहीं हो पा रही है। सड़क पर दोनों तरफ काफी जलभराव है कि। जिसके कारण आसपास की बिल्डिंगों को भी नुकसान होने की स्थिति पैदा हो गए है।

-----------------

सड़क व घर में गंदा पानी, सीएम तक को कर चुके है शिकायत

प्रीति नगर में बारिश के 24 घंटे बाद भी जलभराव है। पानी निकासी नहीं हो पाई। बुजुर्ग विश्वनाथ ने कहा कि मैं प्रदेश के मुख्यमंत्री तक को पानी निकासी की अव्यवस्था के बारे में शिकायत भेजकर समाधान की मांग कर चुका हूं, लेकिन आज तक कोई स्थाई समाधान नहीं हुआ। अफसरों ने कागजों में ही स्थाई समाधान कर दिया हो तो मुझे मालूम नहीं है। लेकिन मेरी सरकार से मांग है कि जलनिकासी का उचित प्रबंध करवाए।

---------

चेयरमैन बोले मेरे वार्ड में गलियों में है जलभराव, बार बार कहने के बावजूद नहीं स्थाई समाधान

सीवरेज व ड्रेनेज व्यवस्था की सब कमेटी के चेयरमैन मनोहर लाल ने कहा कि किसी दूसरे वार्ड के बारे में क्या कहूं। मेरे क्षेत्र में कप्तान स्कूल रोड पर ही सीवरेज जाम के कारण गंदा पानी व बारिश का पानी अभी भी गली में मौजूद है। बार-बार कहने के बावजूद अफसर इस समस्या का कोई स्थाई समाधान नहीं कर पा रहे है। मेरी सरकार और प्रशासन से आग्रह है कि शहर की जनता की समस्या का स्थाई समाधान करवाए।

-----------------

जनस्वास्थ्य विभाग के एसई को जलनिकासी की उचित व्यवस्था करने के लिए कहा है। जनता से भी अपील है कि वे कचरा व पशुओं का गोबर सड़क पर न फैंके। क्योंकि कचरा व पशुओं का गोबर सीवरेज व ड्रेनेज लाइन में जाने से जाम लगता है। इसके कारण पानी निकासी सहीं से नहीं हो पाती है और सड़क पर जलभराव हो जाता है। शहर की जनता शहर को साफ व स्वच्छ रखने में सहयोग करें।

- डा. प्रियंका सोनी, डीसी, हिसार।

Edited By: Manoj Kumar