हिसार, जेएनएन। उपायुक्त डॉ. प्रियंका सोनी ने राजस्व, कृषि एवं किसान कल्याण विभाग, विकास एवं पंचायत विभाग तथा अन्य संबंधित विभागों के अधिकारियों को निर्देश दिए हैं कि वे जिले में ई-गिरदावरी को कार्य जल्द से जल्द पूर्ण करें। उन्होंने कहा कि यह कार्य कल यानि शनिवार से ही आरंभ हो। ई-गिरदावरी करते समय पूर्ण सावधानी बरती जाए और यह सुनिश्चित किया जाए कि गिरदावरी में फसलों के आंकड़े एकदम सही हों। इस कार्य की निगरानी व समीक्षा जिला स्तर के अलावा मुख्यालय स्तर पर भी की जाएगी, इसलिए किसी भी प्रकार की लापरवाही या ढि़लाई नहीं होनी चाहिए। 

कृषि एवं किसान कल्याण विभाग के अतिरिक्त मुख्य सचिव देवेंद्र सिंह द्वारा इस संबंध में आयोजित वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के उपरांत अधिकारियों की बैठक लेते हुए उपायुक्त ने यह बात कही। वीडियो कान्फ्रेंस में यह अवगत करवाया गया कि ई-गिरदावरी का कार्य राजस्व विभाग के पटवारियों द्वारा किया जाता था, परंतु अब इस कार्य को राजस्व विभाग के पटवारियों के साथ-साथ ग्राम सचिव, कैनाल पटवारी, नम्बरदार व कृषि विभाग के अधिकारियों द्वारा आपसी समन्वय के साथ पूरा किया जाएगा। इसलिए इस कार्य के निपटान को लेकर सभी प्रशिक्षण या अन्य कार्य समय रहते सुनिश्चित करें। इसके लिए उपमंडल स्तर का प्रशिक्षण आरंभ किया जाए।

उपायुक्त डॉ. प्रियंका सोनी ने प्रतिदिन गिरदावरी के आंकड़े उपायुक्त कार्यालय को भेजे जाएं। उन्होंने कार्य की प्रगति की समीक्षा के लिए नगराधीश पुलकीत मल्होत्रा को नोडल अधिकारी नियुक्त करते हुए सभी आवश्यक कार्यवाही समय रहते सुनिश्चित करने के निर्देश दिए। उपायुक्त ने राजस्व, कृषि एवं किसान कल्याण विभाग, विकास एवं पंचायत विभाग तथा अन्य संबंधित विभागों के अधिकारियों को निर्देश दिए कि कृषि एवं किसान कल्याण विभाग के अतिरिक्त मुख्य सचिव देवेंद्र सिंह द्वारा जारी दिशा-निर्देशों की अक्षरश : अनुपालना की जाए। बैठक में सीटीएम पुलकित मल्होत्रा, डीआईओ एमपी कुलश्रेष्ठ, राजस्व अधिकारी राजबीर धीमान, उपनिदेशक कृषि विनोद फोगाट, डीडीपीओ सुरजभान सहित संबंधित विभागों के अधिकारी/कर्मचारी उपस्थित थे।

 

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप