जागरण संवाददाता, सिरसा। सिरसा में डेंगू के मामले लगातार बढ़ रहे हैं। बुधवार को डेंगू के 22 नए मामले सामने आए हैं। जिले में अब तक 408 मामले आ चुके हैं। स्वास्थ्य जांच के लिए सिरसा शहर में 16 टीमें लगाई गई है व गांवों में भी टीमें नियुक्त की गई है। प्रत्येक टीम में एमपीएचडब्ल्यू, एएनएम, आशा वर्कर, सक्षम युवा शामिल हैं। स्वास्थ्य विभाग की टीमों द्वारा बुधवार 1971 घरों का सर्वे किया गया। लारवा मिलने पर 52 व्यक्तियों को नोटिस जारी किए गए हैं।

डेंगू वार्ड में भी मरीजों की भरमार

नागरिक अस्पताल में दूसरी मंजिल पर डेंगू वार्ड बनाया गया है। यहां 26 डेंगू मरीज भर्ती है, जिनमें छोटी उम्र के बच्चों से लेकर युवा व अधेड़ भी शामिल है। डेंगू मरीजों में चुनावी डयूटी पर आए सुरक्षा बल के जवान भी शामिल है। डेंगू वार्ड में सभी मरीजों के लिए मच्छरदानी का प्रबंध किया गया है। वार्ड में भर्ती मरीज मास्क लगाकर अपने बेड पर लेटे रहते हैं। वार्ड में साफ सफाई का विशेष ध्यान रखा जा रहा है और मच्छर न पनपे इसके लिए स्प्रे किया जा रहा है।

पांच साल पहले मिले थे सबसे अधिक 201 रोगी, अब संक्रमित हुए दोगुने

जिले में वर्ष 2021 में सबसे अधिक डेंगू रोगी मिले हैं। शहर व गांवों में डेंगू के मरीज है। वर्ष 2016 में जिले में सबसे अधिक 201 डेंगू मरीज थे परंतु इस वर्ष यह आंकड़ा दोगुने को भी पार कर गया है तथा अभी यह सिलसिला लगातार जारी है। डेंगू के कारण कई आशंकितों की मौत भी हुई है लेकिन अभी तक स्वास्थ्य विभाग ने किसी भी मरीज की डेंगू से मौत होने की पुष्टि नहीं की है।

डेंगू संक्रमण रोकने के लिए नगर परिषद की टीमें शहर में लगातार फागिंग कर रही है। जिन क्षेत्रों में डेंगू के केस मिल रहे हैं वहां फागिंग करवाई जा रही है। इसके साथ ही चुनावी डयूटी पर सिरसा में आई सुरक्षा बलों की कंपनियों के ठहरने वाली जगहों पर भी लगातार फागिंग की जा रही है।

इस तरह बढ़ा डेंगू संक्रमण का आंकड़ा

तारीख                    नए केस                कुल केस

20 अक्टूबर                27                         299

21 अक्टूबर               16                          315

22 अक्टूबर                08                         323

23 अक्टूबर               10                          333

24 अक्टूबर                20                         353

25 अक्टूबर                20                         373

26 अक्टूबर                13                         386

27 अक्टूबर                22                         408

जिला उपायुक्त अनिल यादव के अनुसार

डेंगू की रोकथाम के लिए जिला प्रशासन एवं स्वास्थ्य विभाग द्वारा गंभीरता से कदम उठाए जा रहे हैं। जिले के शहरी क्षेत्रों के साथ-साथ ग्रामीण क्षेत्रों में भी न केवल फोगिंग करवाई जा रही है बल्कि स्वास्थ्य टीम घर-घर जाकर आमजन के स्वास्थ्य की जांच भी कर रही है। इसके अलावा विभिन्न प्रचार माध्यमों से नागरिकों से डेंगू से बचाव के लिए प्रेरित किया जा रहा है। मच्छर जनित बीमारियों से बचने के लिए नागरिक पूरी बाजू के कपड़े पहने, मच्छरदानी का प्रयोग करें, घरों के दरवाजे व खिड़कियों पर उपयुक्त जाली इस्तेमाल करें। बुखार होने पर तुरंत चिकित्सीय सलाह लें।

Edited By: Naveen Dalal