संवाद सहयोगी, हांसी : नियम 134-ए के अंतर्गत बच्चों को मनचाहे निजी स्कूलों में दाखिला दिलवाना अभिभावकों के लिए टेढ़ी खीर साबित हो रहा है। मई का महीना बीतने को है और अभी तक पहली लिस्ट के दाखिले की प्रक्रिया ही पूरी नहीं हुई है। एक जून से सरकारी स्कूलों में ग्रीष्मकालीन अवकाश शुरू हो जाएंगे व नियम 134 ए के तहत दाखिला लेने वाले विद्यार्थियों की कक्षाएं शुरू नहीं हो सकी हैं। अब शिक्षा विभाग ने नियम 134-ए के तहत दाखिला लेने वाले बच्चे अन्य बच्चों से पढ़ाई में पीछे न रह जाए इसके लिए नई योजना तैयार की है। शिक्षा विभाग इन ग्रीष्मकालीन अवकाश के बाद इन बच्चों की स्पेशल कक्षाएं लगाएगा जिससे की सिलेबस कवर किया जा सके।

बता दें कि शिक्षा विभाग द्वारा नियम 134-ए के तहत दाखिलों के लिए जारी प्रथम मेरिट लिस्ट को अनियमितताओं के बाद रद कर दिया गया था। जिसके बाद 10 मई को नई लिस्ट जारी की गई थी। इस लिस्ट में 684 विद्यार्थियों के नाम शामिल थे। लिस्ट में शामिल विद्यार्थियों के पास 17 मई तक दाखिला लेने का समय था। उपमंडल में करीब एक हजार विद्यार्थियों ने नियम 134-ए की परीक्षा पास की थी। अभी करीब 300 छात्र दाखिला लेने के लिए इंतजार में बैठे हैं कि कब दूसरी लिस्ट आएगी। शिक्षा विभाग द्वारा 28 मई तक दूसरी लिस्ट जारी करने का दावा किया जा रहा है। इसके लिए 26 व 27 मई को स्कूलों की पसंद भरने के लिए पोर्टल ओपन होगा जो अभिभावक पसंद के स्कूलों को इस अवधि में नहीं भरेंगे उनके बच्चों को दूसरी लिस्ट में शामिल नहीं किया जाएगा।

शिक्षा विभाग का कहना है कि तीसरी लिस्ट जारी नहीं की जाएगी क्योंकि उपमंडल में मात्र 1000 विद्यार्थियों ने हीं परीक्षा पास की है और सीटों की संख्या करीब 1300 है। वहीं, शिक्षा विभाग कक्षाओं में हो रही देरी को लेकर भी चितित है। नियम 134-ए के तहत अभी तक एक भी कक्षा नहीं लग पाई है। ऐसे में सैकड़ों बच्चों की पढ़ाई प्रभावित हो रही है। शिक्षा विभाग का कहना है कि इन बच्चों के लिए ग्रीष्मकालीन छुट्टियों के बाद स्पेशल अतिरिक्त कक्षाएं लगाई जाएंगी जिससे कि सिलेबस कवर किया जा सके। स्पेशल कक्षाओं पर करेंगे विचार

नियम 134-ए के तहत दाखिले की प्रक्रिया में इस बार पूरे प्रदेश में देरी हो रही है। अभी तक प्रथम मेरिट लिस्ट के दाखिले की प्रक्रिया चल रही है। ऐसे में दूसरी लिस्ट 28 मई तक आएगी व एक जून से स्कूलों में छुट्टियां हैं। इस परीक्षा के तहत दाखिला लेने वाले विद्यार्थियों के लिए अतिरिक्त कक्षाएं लगाने के लिए शिक्षा विभाग विचार कर रहा है। विद्यार्थियों का सिलेबेस हर हाल में पूरा करवाया जाएगा। इसके लिए बेशक विशेष अतिरिक्त कक्षाओं का आयोजन क्यों न करना पड़े।

- सुभाष वर्मा, बीईओ।

लोकसभा चुनाव और क्रिकेट से संबंधित अपडेट पाने के लिए डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस