जागरण संवाददाता, हिसार। जिले में कोरोना के मामलों मे पिछले पांच दिनों से राहत है। जिले में अब कोरोना के महज दो ही एक्टिव केस रह गए है। हालांकि पिछले सप्ताह जिले में सात मामले मिले थे, जिससे लग रहा था कि कोरोना के केस फिर से बढ़ रहे है। लेकिन कोरोना के नए मामले न मिलने से स्वास्थ्य विभाग के साथ आम लोग भी राहत महसूस कर रहे है, क्योंकि कोरोना के मामले मिलने से यह लगने लगा था की अब कोरोना के मामले फिर से बढ़ते जाएंगे। जिले में अब तक कोरोना के कुल 53991 मामले मिल चुके है। इनमें से 52849 स्वस्थ हो चुके है। जिले में रिकवरी रेट 97.88 फीसद है। जिले में अब तक 1140 की मौत हो चुकी है।

पहली लहर में कोरोना के 17 हजार नए मामले

गौरतलब है कि हिसार में पहली लहर में कोरोना के 17147 मामले मिले थे, जबकि दूसरी लहर में पहली लहर की अपेक्षा दुगुने से भी अधिक 36844 मिल चुके है। पहली लहर में 327 लोगों की मौत भी हुई थी, जबकि 813 लोगों की मौत हुई है। हालांकि तीसरी लहर की आशंका अब भी बनी हुई है। लेकिन पिछले वर्ष के मुकाबले देखे तो पिछले वर्ष इसी माह सर्वाधिक कोरोना के मामले मिले थे, लेकिन इस वर्ष कोरोना के मामलों में राहत है। हिसार में सोमवार को भी एचटीएम स्कूल, डीसीएम मिल, यूपीएचसी ऋषि नगर, यूपीएचसी पटेल नगर, यूपीएचसी महाबीर कालोनी, यूपीएचसी आजाद नगर, यूपीएचसी आजाद नगर, यूपीएचसी सेक्टर 1-4, सिविल अस्पताल और टीबी अस्पताल में वैक्सीनेशन अभियान चलाया जा रहा है।

24 घंटे वैक्सीनेशन की सुविधा 

सिविल अस्पताल में 24 घंटे वैक्सीनेशन सिनेशन की सुविधा दी गई है, जबकि अन्य केंद्रो पर सुबह नौ से तीन बजे तक वैक्सीनेशन अभियन चलाया जा रहा है, हालांकि किसानों के भारत बंद के  चलते लोग काफी कम संख्या में वैक्सीनेशन केंद्रो पर पहुंच रहे है।  शहर में बाजारों में भी आवाजाही काफी कम हैं। वैक्सीनेशन नहीं हो पा रहा है।

Edited By: Rajesh Kumar