संवाद सहयोगी, उकलाना: राज्यमंत्री बनने के बाद पहली बार अनूप धानक शुक्रवार को उकलाना पहुंचे। कार्यकर्ताओं ने राज्यमंत्री अनूप धानक का सुरेवाला चौक पर स्वागत किया। इस दौरान गांव बिठमड़ा के 75 वर्षीय बुजुर्ग रामकिशन ने राज्यमंत्री अनूप धानक के ऊपर खुले सिक्के उछालने शुरू कर दिए। राज्यमंत्री अनूप धानक ने बुजुर्ग के पांव छूकर आशीर्वाद लिया। उसके बाद बुजुर्ग ने अपने खेत से लाए अमरूद खुद अपने हाथों से राज्यमंत्री को खिलाए। इसके बाद कार्यकर्ता मंत्री को उकलाना के किसान विश्राम गृह में लेकर पहुंचे। यहां नायब तहसीलदार धर्मबीर नैन ने गुलदस्ता भेंट करके प्रशासन की और से स्वागत किया। उसके बाद पुलिस के जवानों ने उन्हें सलामी दी।

---------------

छोटे भाई के गले लग हुए भावुक

राज्यमंत्री अनूप धानक जब मंत्री बनने के बाद उकलाना पहुंचे और उनके मिलने के लिए उनका छोटा भाई सतीश कुमार आया तो माहौल ही भावुक हो गया। सतीश कुमार अपने बड़े भाई राज्यमंत्री अनूप धानक के गले से लिपट गया और आंखें पानी से भर गई। कई देर तक दोनों भाई इसी तरह से गले लगे रहे और राज्यमंत्री अनूप धानक ने अपने छोटे भाई की पीठ थपथपाई। सतीश कुमार की आंखों में खुशी के आंसू दिखाई दे रहे थे।

-------------

अनूप धानक बोले, डा. अजय चौटाला की अंगुली पकड़कर की राजनीति की शुरुआत

राज्यमंत्री अनूप धानक ने कहा कि वह एक साधारण कार्यकर्ता थे और जब उनकी कालेज में डा. अजय चौटाला से मुलाकात हुई थी तो वह काफी प्रभावित हुए। ताऊ देवीलाल के विचारों को जिदगी में अपनाकर डा. अजय चौटाला की अंगुली पकड़कर राजनीति की शुरुआत की थी। उन्हें अपना आदर्श मानकर राजनीति के क्षेत्र में जुटे रहे। इस परिवार ने मेरे जैसे एक छोटे से कार्यकर्ता पर विश्वास किया और मुझे दो बार उकलाना विधानसभा क्षेत्र के आशीर्वाद से विधायक बनने का सौभाग्य मिला। आज मैं जो मंत्री बना हूं उसके पीछे डा. अजय चौटाला के परिवार व उकलाना हलके की जनता का आशीर्वाद है। मैं हमेशा उनका आभारी रहूंगा। उन्होंने कहा कि मंत्री बनने के बाद उनकी प्राथमिकता रहेगी की उकलाना हलके व पूरे प्रदेश का चहुंमुखी विकास हो। सभी को उनके अधिकार मिलें और सबका विकास हो। हलके में विकास की अब कोई कमी नहीं रहने दी जाएगी।

------------

ये रहे मौजूद

इस मौके पर प्रदेश संगठन सचिव राजेंद्र लितानी, हलकाध्यक्ष कै. छज्जुराम, महिला हलकाध्यक्ष राधिका गोदारा, नायब तहसीलदार धर्मबीर नैन, एसडीओ ललित मोहन, एसआई मलसिंह, होशियार सिंह, धूपसिंह थाकन, राजेंद्र महिपाल, अनिल बालकिया, सुनील बूरा, विरेंद्र बिठमड़ा, गुरशरण, राजेश गोदारा, कुलदीप कोहाड़, नेकीराम, ईश्वर सिंह, जगदीश गोयल आदि मौजूद रहे।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप